भोपाल। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) अध्यक्ष अमित शाह ने अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के मुद्दे पर शनिवार को कहा कि यह पार्टी के एजेंडे में प्रारंभ से ही रहा है और कोर्ट के आदेश या समझौते के आधार पर मंदिर का निर्माण किया जा सकता है। शाह ने यहां संवाददाताओं से चर्चा के दौरान इससे जु़डे सवाल पर कहा कि उनका मानना है कि राम मंदिर बनना चाहिए। इस संबंध में कोर्ट का फैसला आना है। उन्होंने कहा कि आपसी समझौते के आधार पर भी मंदिर का निर्माण किया जा सकता है।जम्मू कश्मीर में लागू धारा ३७० जैसे संवेदनशील मुद्दे पर उन्होंने कहा कि यह मामला अभी अदालत में विचाराधीन है और समय आने पर पार्टी और सरकार अपना मत उसके समक्ष रखेंगे। इसी तरह की बात उन्होंने अनुच्छेद ३५ (ए) से जुडे सवाल पर भी कही। शाह ने भारत और चीन के बीच सीमा पर विवाद और जम्मू कश्मीर के मौजूदा हालातों के बारे में कहा कि चीन के मामले में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज स्थिति स्पष्ट कर चुकी हैं। सरकार चीन के अलावा कश्मीर के मामले में गंभीरता से बेहतर कार्य कर रही है और सभी की इस पर निगाहें हैं। उन्होंने कहा कि जम्मू कश्मीर में तो पिछले एक दो माह में बेहतर परिणाम भी सामने आए हैं।