कहीं आपका ‘आधार’ भी तो डिएक्टिवेट नहीं !

  • पहले 11 लाख पैनकार्ड और अब 81 लाख आधार कार्ड किए गए डिएक्टिवेट

नई दिल्ली। अभी कुछ दिन पहले ही सरकार द्वारा 11 लाख पैनकार्ड (परमानेंट अकाउंट नंबर) या तो हटा दिए गए या डिएक्टिवेट कर दिए गए थे। इसके बाद अब सरकार ने देशभर में 81 लाख लोगों के आधार कार्ड भी डिएक्टिवेट कर दिए हैं। सरकार ने एक जुलाई से आधार कार्ड को पैन कार्ड से लिंक कराने के आदेश दिए थे। पैन कार्ड के जरिए सरकार आपके लेनदेन का लेखा-जोखा रखती है। इतना ही नहीं इंकम टैक्स रिटर्न जमा करते समय भी आधार कार्ड को अनिवार्य कर दिया गया है। आधार कार्ड का इस्तेमाल नया खाता खुलवाने से लेकर गैस सब्सिडी लेने और तमाम तरह की सुविधाओं के लिए जरूरी है। ऐसे में हमें यह पता होना चाहिए कि हम उन 81 लाख लोगों में तो शामिल नहीं हैं! इसलिए हमें यह पता होना चाहिए कि हमारा आधार कार्ड डिएक्टिवेट तो नहीं कर दिया गया!

ज्ञातव्य है कि देश में अब तक 111 करोड़ लोगों के आधार कार्ड बन चुके हैं। वर्तमान समय में सरकार ने हर योजना में आधार को अनिवार्य कर दिया है।

आपका आधार डिएक्टिवेट हुआ तो नहीं यह पता करने के लिए कुछ स्टेप्स से गुजरना होगा। इससे पता लगेगा कि आपका आधार कार्ड एक्टिव है या नहीं। इसके लिए सबसे पहले UIDAI की आधिकारिक वेबसाइट https://uidai.gov.in/ पर जाना होगा। वेबसाइट के एक नए पेज पर आपसे आधार कार्ड संबंधित जानकारी मांगी जाएगी। यहां आपको सुरक्षा कोड डालना होगा और सत्यापित करना होगा। इसके बाद रिजल्ट आएगा। इसमें आपका आधार नंबर लिखा होगा। इसके नीचे आपकी उम्र, पता और मोबाइल नंबर का पूरा विवरण होगा। अगर यह सब सहीं है तो आपका आधार सुचारू रूप से जारी है और नहीं तो डिएक्टिवेट हो गया।