मुंबई। देश की आर्थिक राजधानी में आज मंगलवार सुबह 11.30 बजे तक रिकार्डतोड़ 87 मिलीमीटर बारिश हो चुकी है जिसके कारण जन जीवन अस्त-व्यस्त हो गया है और मुंबई की जीवन रेखा कही जाने वाली लोकल ट्रेन की तीनों लाइन (पश्‍चिमी उपनगर, हार्बर और मध्य रेलवे) बंद कर दी गयी हैं। मौसम विभाग के अनुसार मुंबई और आस-पास इलाके में पिछले 48 घंटे से लगातार बारिश हो रही है और विभाग ने आज पूरे दिन यहां बारिश होने के आसार जताये हैं।

दक्षिण मुंबई में कल से आज सुबह तक 152 मिमी बारिश रिकार्ड की गयी है। 24 घंटे में यह इस वर्ष की सर्वाधिक बारिश है। नवी मुंंबई में पिछले 24 घंटे में 119.85 मिमी एवं और उत्तरी कोंकण में 161 मिमी बारिश दर्ज की गयी है। बारिश के कारण पश्‍चिमी उपनगर के बान्द्रा रेलवे स्टेशन समेत कई अन्य जगहों पर रेल लाइन पर पानी भर गया जिसके कारण लोकट ट्रेनों की आवाजाही बंद कर दी गयी।

तेज हवा और मूसलाधार बारिश के कारण देश की आर्थिक राजधानी मुंबई की गति मंद पड़ गयी है। कार्यालय में पहुंचने वाले लोग पूरी तरह भीग गये और इस मूसलाधार बारिश में छाता भी काम नहीं कर रहा है। अभी भी यहां लगातार बारिश हो रही है।

सूत्रों के अनुसार सायन के प्रतीक्षा नगर, खार के जयभारत सोसायटी और हिंदमाता इलाके में पानी भर गया है। बारिश के कारण ट्रेन, बस और विमान सेवा भी प्रभावित हुई है। अगले चार घंटे मुंबई में लगातार भारी बारिश होने के आसार जताये गये हैं। शाम 4.30 बजे समुद्र में ज्चार आने की चेतावनी जारी की गयी है। मुंबई महानगर पालिका के कर्मचारी विभिन्न इलाकों से पानी निकालने में जुटे हैं।

घनघोर बारिश ने मुंबई के लोगों को 26 जुलाई, 2005 की याद दिला दी है, जब भीषण बारिश के चलते सैंकड़ों लोगों की जान चली गई थी और शहर को काफी नुकसान उठाना पड़ा था। उस समय मुंबई में 840 एमएम बारिश हुई थी।