नई दिल्ली। बेनामी संपत्ति मामले में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री एवं राष्ट्रीय जनता दल (राजद) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव और उनके परिवार पर आयकर विभाग की नकेल कसती जा रही है। विभाग ने ब़डी कार्रवाई करते हुए मंगलवार को दिल्ली और पटना में करीब १७५ करो़ड रुपए मूल्य की बेनामी संपत्ति जब्त करने के साथ ही उनकी पत्नी राब़डी देवी, सांसद बेटी मीसा भारती और पुत्र एवं बिहार के उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव के खिलाफ मामला भी दर्ज किया है।विभाग ने परिवार के सदस्यों के १२ प्लॉट कुर्क किए हैं। इससे पहले उसने श्रीमती मीसा भारती को दो बार सम्मन जारी कर हाजिर होने को कहा था किन्तु वह विभाग के समक्ष पेश नहीं हुई जिसके लिए उन पर १० हजार रुपए का जुर्माना लगाया गया था। विभाग ने मई में विभिन्न स्थानों पर यादव के परिवार की बेनामी संपत्तियों पर छापे मारे थे।श्रीमती भारती के पति शैलेश कुमार के खिलाफ भी १३ जून को बेनामी संपत्ति और कर चोरी का मामला दर्ज किया गया था। शैलेश को भी विभाग ने हाजिर होने के लिए सम्मन भेज दिया था। वह भी हाजिर नहीं हुए थे और उन पर भी १० हजार रुपए जुर्माना लगाया गया था। श्रीमती भारती और शैलेश कुमार की १.४ करो़ड रुपए में खरीदी गई दिल्ली के बिजवासन स्थित बेनामी संपत्ति जिसका बाजार मूल्य ४० करो़ड रुपए है, जब्त की गई है। परिवार के सदस्यों के दिल्ली की न्यू फ्रेंड्स कॉलोनी और दानापुर-पटना में १२ प्लॉट जब्त किए गए हैं। आयकर विभाग के अधिकारियों ने कहा कि यादव के परिवार के खिलाफ यह कार्रवाई पिछले महीने डाले गए छापों के आधार पर की गई है। तेजस्वी ने इसे ‘राजनीतिक बदले की भावना‘ बताया। उन्होंने कहा, हमने कुछ भी नहीं छिपाया है। हमें जब भी पूछताछ के लिए बुलाया जाएगा, हाजिर होंगे। विभाग ने एक हजार करो़ड रुपए के बेनामी संपत्ति और कर अपवंचना के मामले में सोमवार की गई कार्रवाई के बाद यह ब़डी कार्रवाई की है।