जनसभा को संबोधित करते हुए भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह।
जनसभा को संबोधित करते हुए भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह।

पाकुड़/दक्षिण भारत। केंद्रीय गृह मंत्री एवं भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने सोमवार को झारखंड के पाकुड़ में एक चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि अयोध्या में चार महीने के अंदर एक भव्य राम मंदिर बनेगा। इस दौरान उन्होंने कांग्रेस पर जमकर हमला बोला और उसकी नीतियों की आलोचना की।

शाह ने कहा कि अभी कुछ समय पहले सुप्रीम कोर्ट ने अयोध्या के लिए फैसला दिया, 100 वर्षों से दुनियाभर के भारतीयों की मांग थी कि वहां राम जन्मभूमि पर भव्य राम मंदिर बनना चाहिए, लेकिन ये कांग्रेस के नेता और वकील कपिल सिब्बल कोर्ट में कहते थे कि अभी केस मत चलाइए। क्यों भाई, आपके पेट में क्यों दर्द हो रहा है?

शह बोले, मैं आपसे कहना चाहता हूं कि सुप्रीम कोर्ट का फैसला आ गया है, चार माह के अंदर आसमान को छूता हुआ भव्य राम मंदिर अयोध्या में बनने जा रहा है। शाह ने कहा कि 2019 के लोकसभा चुनाव में झारखंड ने 14 में से 12 सीटें मोदीजी को दे दीं और संसद के पहले ही सत्र के अंदर जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 और 35ए को उखाड़ फेंकने का काम मोदी सरकार ने कर दिया।

शाह ने कहा, अब मैं एक नई बात देख रहा हूं कि राहुल बाबा पूछते हैं- आप कश्मीर की बात झारखंड में क्यों कर रहे हो? राहुल बाबा आपको मालूम नहीं है कि झारखंड के सैकड़ों युवाओं ने कहीं सीआरपीएफ, बीएसएफ और सेना में कश्मीर को बचाने के लिए बर्फीली चोटियों पर अपना खून बहाया है। कांग्रेस न विकास कर सकती है, न देश को सुरक्षित कर सकती है और न देश की जनता की जन भावनाओं का सम्मान कर सकती है।

शाह ने कहा कि यह भूमि वीरों की भूमि है। सबसे पहले अंग्रेजों को देश छोड़ने की किसी ने चेतावनी दी तो इसी भूमि ने दी थी। संथाल हूल की लड़ाई में अंग्रेजों से लड़ते-लड़ते यहां के आदिवासियों ने बलिदान दिया, अंग्रेजों के दांत खट्टे करने का काम किया। शाह ने कहा कि वर्षों तक झारखंड के युवा लड़ते रहे लेकिन जब तक कांग्रेस का शासन रहा, तब तक झारखंड की रचना नहीं हुई। मगर जब केंद्र में अटलजी की भाजपा सरकार आई, उन्होंने झारखंड का निर्माण किया।

शाह ने कहा कि अटलजी ने झारखंड को बनाया है और मोदीजी ने झारखंड को संवारने और यहां विकास करने का काम किया है। पहले पाकुड़ विधानसभा क्षेत्र में बिजली कभी-कभार आती थी, आज मैं गारंटी से कहता हूं कि 16 से 22 घंटे बिजली पूरे क्षेत्र को मिलती है। 14 हजार 557 गांव में बिजली पहुंचाने का काम रघुवर दास और नरेंद्र मोदीजी की सरकार ने किया है। प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत संथाल परगना के 1 लाख 21 हजार परिवारों को आवास उपलब्ध करने का कार्य हमारी सरकार ने किया है।