इंटेल शोध एवं विकास कार्यों के विस्तार पर खर्च करेगी 100 करोड़

अत्याधुनिक तकनीक से बनने वाली देश की दूसरी इमारत होगी

361

बेंगलूरु। इंटेल इंडिया ने बुधवार को यह घोषणा की कि यह अपने शोध एवं विकास कार्यों के विस्तार करने और शहर के बाहरी इलाके में एक नया अत्याधुनिक डिजाइन हाउस बनाने के लिए ११०० करो़ड रुपए का निवेश करेगा। इस नए डिजाइन हाउस का उपयोग कंपनी डिजाइन तैयार करने और उसकी पुष्टि के लिए करेगी। इस विशेष ढांचागत सुविधाओं वाली इमारत का निर्माण कार्य ६२०,००० वर्ग फुट के भूखंड पर किया जाएगा। इस अतिरिक्त क्षमता इंटेल इंडिया को अपने शोध एवं विकास कार्यों को अपने एसआरआर कैंपस में ब़डे पैमाने पर विस्तार करने में मददगार होगा।यह इमारत ’’स्मार्ट एंड ग्रीन’’ डिजाइन के आधार पर बनाई जाएगी और इसकी इस आगामी सुविधा जिसका नाम ’’एसआरआर फोर’’ होगा, का निर्माण ’’वन स्टोर हाई टेक्नोलोजी’’ का उपयोग करके किया जाएगा। इसकी प्रत्येक मंजिल को जमीन पर बनाया जाएगा और इसके बाद इन्हें उठाया जाएगा और इमारत के ऊपरी हिस्से से जो़डा जाएगा। इसके बाद छत के नीचे के हिस्से को बनाया जाएगा। इस तकनीक से भवन का निर्माण करने में परंपरागत निर्माण तरीकों की तुलना में ३० प्रतिशत कम समय लगेगा। इस तकनीक से बनाई जाने वाली यह भारत की दूसरी ऐसी इमारत होगी। यह पूरी तरह से स्थानीय ठेकेदारों द्वारा बनाई जाएगी। इसके साथ ही यह इमारत आईओटी आधारित स्मार्ट फीचर्स से लैस होगी, जिसमें स्मार्ट लाइट और रीयल-टाइम ऑक्यूपेंशी मैनेजमंेंट जैसी आधुनिकतम तकनीक भी शामिल होंगी। इसकी एक और विशेषता यह होगी कि इसमें सौर ऊर्जा के पुनरुत्सर्जित उर्जा स्रोतों का उपयोग किया जाएगा मसलन इसमें सौर पैनल और फ्यूल सेल आधारित बिजली की व्यवस्था होगी।इस अवसर पर संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री सिद्दरामैया ने कहा कि जब यह सूचना तकनीक उद्योग की बात हो तो राज्य हमेशा निवेश में अग्रणी रहता है। निवेश का केन्द्र होने के कारण हमारे निवेश कार्यक्रम हाल के वर्षों मंे इस प्रकार के लाभदायक निवेश के साथ अपनी कीमत अदा कर रहे हैं। इस प्रकार के निवेश से रोजगार के जबरदस्त अवसर पैदा होंगे और देश में सूचना एवं तकनीक क्षेत्र मजबूत होगा।राज्य के सूचना एवं जैव तकनीक मंत्री प्रियंक खरगे ने कहा कि बेंगलूरु में आईटी उद्योगों के विकास के लिए सही आवश्यक क्षमता है और ऐसा निवेश राज्य को आगे ब़ढाएगा। उन्होंने कहा कि राज्य को आगे बढने के साथ ही देश भी नई ऊंचाइयों को प्राप्त करेगा। यह उन कई निवेश एजेंडाओं में से एक है जो हमने राज्य के लिए योजनाबद्ध किया है। मुझे विश्वास है कि इंटेल का यह निवेश नवप्रवर्तन को प्रोत्साहित करेगा और अधिक अवसरों को लाएगा। इस अवसर पर इंटेल इंडिया के महाप्रबंधक, डाटा सेंटर ग्रुप के उपाध्यक्ष निर्वराति राय ने कहा कि इंटेल इंडिया, इंटेल के विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है, इंटेल की तकनीक और उत्पाद नेतृत्व में महत्वपूर्ण योगदान के साथ हम अपने सर्वश्रेष्ठ डिजाइन क्षमताओं के विस्तार को लेकर उत्साहित हैं। उन्होंने कहा कि भारत में हम भारत में अत्याधुनिक नव प्रर्वतन और डिजाइन बनाने में हमारी गति को जारी रखने में सक्षम होंगे। हम भारत में जीवंत पारिस्थितिकी तंत्र के साथ काम करने की आशा रखते हैं और देश में नव प्रवर्तन की यात्रा और विकास में योगदान करने के प्रति उम्मीद भरी नजरों से देखते हैं।

यह इमारत ‘स्मार्ट एंड ग्रीन’ डिजाइन के आधार पर बनाई जाएगी और इसकी इस आगामी सुविधा जिसका नाम ‘एसआरआर फोर’ होगा, का निर्माण ‘वन स्टोर हाई टेक्नोलोजी’ का उपयोग करके किया जाएगा। इसकी प्रत्येक मंजिल को जमीन पर बनाया जाएगा और इसके बाद इन्हें उठाया जाएगा और इमारत के ऊपरी हिस्से से जोड़ा जाएगा। इसके बाद छत के नीचे के हिस्से को बनाया जाएगा।