logo
ओमेगा सेकी तीन पहिया इलेक्ट्रिक वाहनों के लिए दुनिया का सबसे बड़ा संयंत्र कर्नाटक में बनाएगी
यह संयंत्र 250 एकड़ क्षेत्र में तीन चरणों में बनाया जाएगा
 
यहां से सालाना दस लाख बिजली चालित तीन पहिया वाहनों का उत्पादन होगा

मुंबई/भाषा। इलेक्ट्रिक वाहन (ईवी) विनिर्माता ओमेगा सेकी मोबिलिटी (ओएसएम) 25 करोड़ डॉलर (करीब 1,900 करोड़ रुपये) के निवेश से दुनिया की सबसे बड़ी तीन पहिया इलेक्ट्रिक वाहन विनिर्माण इकाई की स्थापना कर्नाटक में करेगी।

ओएसएम ने शुक्रवार को कहा कि यह संयंत्र 250 एकड़ क्षेत्र में तीन चरणों में बनाया जाएगा और यहां से सालाना दस लाख बिजली चालित तीन पहिया वाहनों का उत्पादन होगा।

इसमें बताया गया कि कंपनी संयंत्र की स्थापना के लिए इक्विटी और ऋण के जरिए पूंजी जुटा रही है। कंपनी ने कहा कि इस कारखाने के आसपास के इलाकों में सहायक विनिर्माण इकाइयां स्थापित करने के लिए मौजूदा और नए आपूर्तिकर्ताओं के साथ उसकी बातचीत चल रही है।

कंपनी ने एक बयान में कहा, ‘विश्व पृथ्वी दिवस (22 अप्रैल) के अवसर पर ओमेगा सेकी मोबिलिटी घोषणा करती है कि कर्नाटक में दुनिया की सबसे बड़ी तीन पहिया इलेक्ट्रिक वाहन विनिर्माण इकाई की स्थापना की जाएगी। इसके लिए 25 करोड़ डॉलर का निवेश किया जाएगा।’

कंपनी के संस्थापक एवं अध्यक्ष उदय नारंग ने कहा कि बिजली चालित तीन पहिया वाहनों के संगठित बाजार ने वित्त वर्ष 2021-22 में 200 फीसदी की शानदार वृद्धि दर्ज की है। इसके साथ ही तीन पहिया वाहनों की कुल संख्या में बिजली से चलने वाले वाहनों की हिस्सेदारी 46 फीसदी हो गई है।’’

<