प्रतीकात्मक चित्र
प्रतीकात्मक चित्र

नई दिल्ली/भाषा। भारत के वाहन क्षेत्र में नियुक्तियों में सुधार जारी है और सितंबर महीने में इसमें 29 प्रतिशत की क्रमिक वृद्धि दर्ज की गई। हालांकि, यह अब भी कोरोना वायरस महामारी से पहले के स्तर से नीचे है। रोजगार संबंधी ऑनलाइन सेवाएं देने वाले पोर्टल नौकरी डॉट कॉम ने इसकी जानकारी दी।

कंपनी ने एक बयान में कहा कि जून, 2020 से ही सकारात्मक रुख बना हुआ है और माह-दर-माह सुधार हो रहा है।उसने कहा, ‘जब हम कोविड से पहले और बाद के इस क्षेत्र के प्रदर्शन के स्तर की तुलना करते हैं, इसमें स्पष्ट सुधार दिखता है। हालांकि, यह अब भी कोविड से पहले के स्तर की तुलना में सितंबर में 25 प्रतिशत नीचे बना हुआ है।’

इस साल अप्रैल में यह कोविड से पहले के स्तर से 80 प्रतिशत नीचे था। कंपनी ने कहा कि नियुक्तियों में पिछले कुछ महीने में क्रमिक सुधार हुआ। यह अगस्त में कोविड पूर्व स्तर से 42 प्रतिशत नीचे था।

नौकरी डॉट कॉम के अनुसार, शीर्ष भूमिकाओं में उत्पादन प्रबंधक, औद्योगिक इंजीनियर, बिक्री / व्यवसाय विकास प्रबंधक, सेवा रखरखाव इंजीनियर, डिजाइन इंजीनियर और अकाउंटेंट शामिल हैं। प्रोजेक्ट मैनेजर – मैन्युफैक्चरिंग, सर्विस मेंटेनेंस इंजीनियर और प्रोडक्शन मैनेजर जैसी भूमिकाओं में 57 फीसदी, 46 फीसदी और 22 फीसदी की वृद्धि देखी गई है।