नीतिगत दर में कटौती का लाभ ग्राहकों को पहुंचायें बैंक : वित्त मंत्री

228

नई दिल्ली/भाषा। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने उद्योग जगत को आश्र्वस्त किया कि वह यह सुनिश्र्चित करेंगी कि बैंक नीतिगत दर में कटौती का लाभ ग्राहकों तक पहुंचायें ताकि ब्याज बोझ कम हो। उद्योग मंडल पीएचडी चैंबर ऑफ कामर्स ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। वित्त मंत्री वीडियो कांफ्रेन्सिंग के जरिये पीएचडी चैंबर ऑफ कामर्स के सदस्यों को संबोधित कर रही थी।

पीएचडीसीसीआई ने ट्विटर पर लिखा है, वित्त मंत्री सीतारमण ने आश्र्वस्त किया है कि वह व्यक्तिगत तौर पर सुनिश्र्चित करेंगी कि बैंक नीतिगत दरों में कटौती का लाभ यथाशीघ्र ग्राहकों को दें। पिछले महीने आरबीआई ने नीतिगत दर रेपो में 0.40 प्रतिशत की कटौती की। इसके बाद रेपो दर 4 प्रतिशत के ऐतिहासिक न्यूनतम स्तर पर आ गयी। रेपो दर वह दर है जिस पर बैंक, केंद्रीय बैंक से कर्ज लेते हैं।

वित्त मंत्री ने यह भी कहा कि सरकार रोजगार सृजन और आर्थिक वृद्धि को गति देने के लिये देश में संपत्ति सृजित करने वालों का सम्मान करती रहेगी और उनके लिये चीजों को सुगम बनाती रहेंगी। उन्होंने कहा कि सरकार न्यूनतम सरकार, कारगर प्रशासन के मकसद के साथ आगे बढ़ रही है।

उद्योग मंडल ने ट्विटर पर यह भी लिखा है, वित्त मंत्री ने पीएचडी चैंबर के तीव्र आर्थिक वृद्धि और बेहतर विकास के लिये उद्योग में उम्दा प्रौद्योगिकी के उपयोग को बढ़ावा देने को लेकर प्रौद्योगिकी उन्नयन कोष के गठन के सुझाव को स्वीकार कर लिया है।