शेयर बाजार
शेयर बाजार

मुंबई/भाषा। बीएसई में तेजी का सिलसिला मंगलवार को लगातार चौथे कारोबारी सत्र में भी जारी रहा और सेंसेक्स 182 अंक की बढ़त के साथ अपने सर्वकालिक उच्च स्तर पर बंद हुआ। रिलायंस इंडस्ट्रीज, टीसीएस और इन्फोसिस जैसी कंपनियों के शेयरों में तेजी तथा विदेशी कोषों के सतत प्रवाह से बाजार धारणा मजबूत हुई।

बीएसई के 30 शेयरों वाले सेंसेक्स ने दिन में कारोबार के दौरान अपने सर्वकालिक उच्च स्तर 45,742.23 अंक को छुआ। बाद में सेंसेक्स 181.54 अंक या 0.40 प्रतिशत की बढ़त के साथ 45,608.51 अंक के नए रिकॉर्ड पर बंद हुआ।

इसी तरह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज के निफ्टी में लगातार छठे कारोबारी सत्र में बढ़त का सिलसिला कायम रहा। निफ्टी भी 37.20 अंक या 0.28 प्रतिशत बढ़कर 13,392.95 अंक के नए उच्च स्तर पर बंद हुआ। दिन में कारोबार के दौरान यह अपने सर्वकालिक उच्चस्तर 13,435.45 अंक तक गया।

सेंसेक्स में शामिल कंपनियों में अल्ट्राटेक सीमेंट का शेयर करीब तीन प्रतिशत चढ़ गया। टीसीएस, रिलायंस इंडस्ट्रीज, एचसीएल टेक, इन्फोसिस और कोटक बैंक के शेयर भी लाभ में रहे। वहीं दूसरी ओर सन फार्मा, इंडसइंड बैंक, एनटीपीसी, टेक महिंद्रा, ओएनजीसी और एशियन पेंट्स के शेयरों में गिरावट रही।

रिलायंस सिक्योरिटीज के रणनीति-प्रमुख विनोद मोदी ने कहा, ‘वैश्विक बाजारों के कमजोर रुख के बावजूद घरेलू बाजार लाभ के साथ बंद हुए। वित्तीय और आईटी कंपनियों के साथ रिलायंस इंडस्ट्रीज ने आज बाजार को समर्थन दिया। फार्मा और धातु कंपनियों के शेयरों में मुनाफा वसूली का सिलसिला देखने को मिला।’

विश्लेषकों का कहना है कि विदेशी कोषों के सतत प्रवाह से भी बाजार को समर्थन मिल रहा है। शेयर बाजारों के अस्थायी आंकड़ों के अनुसार विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों ने सोमवार को शुद्ध रूप से 3,792.06 करोड़ रुपए के शेयर खरीदे।

अन्य एशियाई बाजारों में चीन के शंघाई कम्पोजिट, हांगकांग के हैंगसेंग, दक्षिण कोरिया के कॉस्पी और जापान के निक्की में गिरावट रही। शुरुआती कारोबार में यूरोपीय बाजार भी नुकसान में देखे गए। इस बीच, वैश्विक बेंचमार्क ब्रेंट कच्चा तेल वायदा 0.35 प्रतिशत फिसलकर 48.62 डॉलर प्रति बैरल पर आ गया।