नई दिल्ली/भाषा। उद्योगपति सज्जन जिंदल ने बुधवार को कहा कि प्रधानमंत्री के 20 लाख करोड़ रुपए के आर्थिक प्रोत्साहन पैकेज से ‘मेक इन इंडिया’ कार्यक्रम में तेजी लाने में मदद मिलेगी। उल्लेखनीय है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 12 मई को राष्ट्र के नाम अपने संबोधन में कोविड-19 संकट से उबरने के लिए इस पैकेज की घोषणा की।

प्रधानमंत्री ने कहा कि इस पैकेज में पहले घोषित प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना की राशि और भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा बाजार को दी गई सहूलियत शामिल हैं। बाकी पैकेज की विस्तृत जानकारी वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण देंगी।

जिंदल स्टील वर्क्स समूह के चेयरमैन सज्जन जिंदल ने एक बयान में कहा कि ये पैकेज लघु एवं मध्यम उद्योगों, किसानों, करदाताओं और मध्यम वर्ग को राहत देने के लिए सही समय पर घोषित किया गया है।

उन्होंने कहा, ‘इस पैकेज से भारतीय अर्थव्यवस्था को आत्मनिर्भर बनाने का सपना देखा गया है। इसके लिए हमें अपने जनसांख्यकीय लाभ, प्रौद्योगिकी कौशल और मजबूत घरेलू मांग का लाभ उठाना होगा। बेहतर बुनियादी ढांचा और आपूर्ति शृंखला स्थापित करनी होगी जो मेक इन इंडिया कार्यक्रम को तेज करने में मदद करेगी।’

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने ‘स्थानीय वस्तुओं के उपयोग पर जोर’ दिया है जो लड़खड़ाते घरेलू विनिर्माण उद्योग के लिए एक स्पष्ट संदेश है।