शेयर बाजार
शेयर बाजार

मुंबई/भाषा। विदेशों से निवेश प्रवाह जारी रहने के बीच बंबई शेयर बाजार में शुक्रवार को कारोबार की शुरुआत सेंसेक्स के नई रिकॉर्ड ऊंचाई पर पहुंचने के साथ हुई। हालांकि, मुनाफा वसूली चलने से बाजार में उतार-चढ़ाव का रुख दिखाई दिया।

बंबई शेयर बाजार (बीएसई) का सेंसेक्स कारोबार की शुरुआत में अपने सर्वकालिक उच्चस्तर 47,026.02 अंक पर खुलने के बाद मुनाफा वसूली से नीचे आ गया और कुछ देर बाद 46,749.04 अंक पर देखा गया।

पिछले दिन के मुकाबले यह 141.30 अंक यानी 0.30 प्रतिशत नीचे रहा। इसी प्रकार नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का निफ्टी भी शुरुआत में 13,771.45 अंक की ऊंचाई पर खुलने के कुछ देर बाद ही नीचे 13,713.55 अंक पर आ गया। इसमें भी पिछले दिन की समाप्ति पर दर्ज निफ्टी के मुकाबले 44.90 अंक की गिरावट रही।

सेंसेक्स में शामिल शेयरों में ओएनजीसी सबसे ज्यादा नुकसान में रहा। इसमें तीन प्रतिशत तक की गिरावट देखी गई। इसके बाद इंडसइंड बैंक, एचडीएफसी बैंक और एचडीएफसी, बजाज फाइनेंस और कोटक बैंक के शेयरों में भी गिरावट का रुख रहा।

इसके विपरीत इन्फोसिस, एचसीएल टेक, टीसीएस, नेस्ले इंडिया और बजाज आटो बढ़त दिखाने वाले शेयरों में शामिल रहे।

बीएसई सेंसेक्स बृहस्पतिवार को 223.88 अंक यानी 0.48 प्रतिशत ऊंचा रहकर 46,890.34 अंक पर बंद हुआ था। वहीं, निफ्टी भी 58 अंक यानी 0.42 प्रतिशत बढ़कर 13,740.70 अंक पर बंद हुआ।

शेयर बाजार के आंकड़ों के मुताबिक बृहस्पतिवार को विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) ने बाजार में 2,355.25 करोड़ रुपये के शेयरों की शुद्ध लिवाली की। बाजार सूत्रों का कहना है कि बाजार में उच्चस्तर पर बिकवाली का जोर रहा।

इस बीच वैश्विक बाजार में कच्चे तेल का ब्रेंट वायदा भाव 0.23 प्रतिशत नीचे आकर 51.38 डालर प्रति बैरल पर बोला गया।