मुंबई/भाषा। देश में कोरोना के टीकों के आपात उपयोग की मंजूरी से निवेशकों में उत्साह है। इसके साथ ही आईटीसी, इंफोसिस और आईसीआईसीआई बैंक जैसे प्रमुख शेयरों में तेजी के दम पर सोमवार को शुरुआती कारोबार में सेंसेक्स 300 अंक से अधिक चढ़ गया।

बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स शुरुआती कारोबार में 48,168.22 के अपने जीवनकाल के उच्चतम स्तर को छू गया। यह 272.73 अंक यानी 0.57 प्रतिशत बढ़कर 48,141.71 पर कारोबार कर रहा था। एनएसई का निफ्टी भी 90.90 अंक यानी 0.65 प्रतिशत बढ़कर 14,109.40 अंक के रिकॉर्ड उच्च स्तर पर पहुंच गया।

सेंसेक्स की कंपनियों में टीसीएस सबसे ज्यादा बढ़त करीब दो फीसदी की बढ़त में रही। इसके बाद ओएनजीसी, भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई), एलएंडटी, इंफोसिस, एचसीएल टेक, आईसीआईसीआई बैंक और एक्सिस बैंक का स्थान रहा।

दूसरी ओर, एचडीएफसी, एशियन पेंट्स और रिलायंस इंडस्ट्रीज के शेयर गिरावट में रहे। पिछले सत्र में, सेंसेक्स 117.65 अंक यानी 0.25 प्रतिशत बढ़कर 47,868.98 अंक के नए सर्वकालिक उच्च स्तर पर बंद हुआ था। निफ्टी भी 14,018.50 के सर्वकालिक उच्च स्तर पर बंद हुआ था।

विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) पूंजी बाजार में शुद्ध खरीदार रहे। प्रारंभिक आंकड़ों के अनुसार, उन्होंने शुक्रवार को शुद्ध आधार पर 506.21 करोड़ रुपए के शेयर खरीदे।

रिलायंस सिक्योरिटीज में रणनीति प्रमुख बिनोद मोदी ने कहा कि घरेलू शेयर बाजार ठोस प्रतीत हो रहे हैं। दिसंबर 2020 में माल एवं सेवा कर (जीएसटी) संग्रह, बिजली की मांग और रेलवे के भाड़े जैसे प्रमुख आर्थिक आंकड़े बाजार को मजबूती प्रदान करते रहेंगे।

इसके अतिरिक्त, दो कोविड-19 टीके को आपात उपयोग की मंजूरी मिलने से शीघ्र टीकाकरण शुरू होने की उम्मीदों को बल मिला है। यह भी बाजार व अर्थव्यवस्था के लिए सकारात्मक है।

एशियाई बाजार कारोबार के दौरान कमोबेश बढ़त में चल रहे थे। चीन का शंघाई कंपोजिट, दक्षिण कोरिया का कोस्पी और हांगकांग का हैंगसेंग बढ़त में थे। हालांकि जापान का निक्की गिरावट में था।

इस बीच, कच्चा तेल के वैश्विक बेंचमार्क ब्रेंट क्रूड का वायदा 0.98 फीसदी बढ़कर 52.31 डॉलर प्रति बैरल पर कारोबार कर रहा था।