मुणोत परिवार ने पिता की स्मृति में पौधारोपण व गौसेवा कर पेश किया आदर्श

78

बेंगलूरु/दक्षिण भारत। शहर के विजयनगर स्थित मारुति मेडिकल के प्रमुख व गौभक्त महेन्द्र मुणोत परिवार हमेशा से गौसेवा में अग्रणी कार्य करता आ रहा है। एक बार फिर शुक्रवार को अपने पिताश्री स्व. मोतीलाल मुणोत की 9 वीं पुण्यतिथि के उपलक्ष्य में मारुति मेडिकल के महेन्द्र, हंसराज व आनंद मुणोत परिवार ने मंड्या स्थित चैत्रा गौशाला में पौधारोपण कर अपने पिता की स्मृतियों को चिरस्थाई कर दिया। इस मौके पर चैत्रा गौशाला में पूरे विधि विधान से गौसेवा की गई तथा गायों को गुड़, हरी घास आदि सामग्री खिलाई गई्‌।

मुणोत परिवार की ओर से अपने पिता की स्मृति में चैत्रा गौशाला सहित ध्यान फाउंडेशन की नंदिनी गौशाला, रेणु गौशाला, अमृतधारा गौशाला के संतोष तिवारी, व्हाट फाउंडेशन के आनंद कृष्णादास, वाइल्ड लाइफ एसओएस ग्रुप से सिम्हाद्रि, गौतम शर्मा, उपेंद्र एवं ओमकार गौशाला के सदस्यों को गौसेवा हेतु कुल 24लाख रुपए के सहयोग राशि के चेक भेंट किए्‌।

ज्ञातव्य है कि मुणोत परिवार ने गत माह दिवंगत हुई उनकी मां की स्मृति में भी गौसेवा का बड़ा कार्य किया था। इस अवसर पर गौभक्त महेन्द्र मुणोत ने कहा कि इस धरती में गाय ही एक ऐसा प्राणी है जिसमें सभी भगवानों सहित माता-पिता का वास होता है।

ऐसे में गौसेवा कर हम प्रभु भक्ति ही करते हैं्‌। भगवान कृष्ण ने भी कहा है कि गोपी गाय मेरा जीवन, गीता मेरे जीवन का सार, गोपी मेरे जीवन का प्यार, गाय मेरे जीवन का आधार है इसलिए जो व्यक्ति गाय, गीता और स्त्री का सम्मान व सेवा करता है वह प्रभु के नजदीक होता है। मुणोत ने कहा कि यह सच है कि हम मां के दूध का कर्ज नहीं चुका सकते लेकिन गौ माता की सेवा करके गाय के दूध का कर्ज तो अवश्य चुका रहे हैं और यह गौसेवा व पौधारोपण उसी ओर बढ़ाया हुआ छोटा सा कदम है।