सेना ने की पाक चौकियां ध्वस्त

पाक सेना ने भारतीय दावे को खारिज किया

363

नई दिल्ली। भारतीय सेना ने पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में पिछले वर्ष की गई सर्जिकल स्ट्राइक के बाद जम्मू-कश्मीर के नौशेरा सेक्टर में नियंत्रण रेखा के पार भारी फायरिंग करते हुए पाकिस्तानी सेना की कई चौकियों को ध्वस्त कर दिया। सेना के प्रवक्ता मेजर जनरल अशोक नरूला ने मंगलवार को यहां संवाददाताओं को सेना की इस कार्रवाई का ब्यौरा देते हुए कहा कि इसका मुख्य उद्देश्य घुसपैठियों और आतंकवादियों को भारतीय सीमा में घुसने में मदद करने वाली पाकिस्तान की चौकियों को ध्वस्त करना था और इस कार्रवाई में पाकिस्तान की कई चौकियों को भारी नुकसान पहुंचा है। मेजर जनरल नरूला ने हालांकि इस कार्रवाई की निश्चित तारीख नहीं बताई लेकिन सूत्रों को कहना है कि यह कार्रवाई २० और २१ मई को की गई है। उन्होंने कहा कि सेना इस कार्रवाई से नियंत्रण रेखा पर पूरी तरह अपना दबदबा बनाए हुए है। सेना ने भारी तोपों के जरिये की गई इस कार्रवाई का वीडियो भी जारी किया है। मेजर जनरल नरूला ने कहा, सेना के आतंकवाद रोधी अभियानों के तहत नियंत्रण रेखा के पार भारी फायरिंग की जा रही है। उन्होंने कहा कि इस फायरिंग में नौशेरा सेक्टर से लगती नियंत्रण रेखा के पार पाकिस्तान की कई चौकियों को भारी नुकसान पहुंचा है। उन्होंने कहा कि पाकिस्तानी सेना हमारी अग्रिम चौकियों पर निशाना साध कर हथियारबंद घुसपैठियों की लगातार मदद करती रही है। पाकिस्तानी सैनिक कई बार नियंत्रण रेखा के पास स्थित गांवों में निवासियों को निशाना बनाने से भी नहीं हिचकिचाते। सेना के प्रवक्ता ने कहा कि इस स्थिति से निपटने के लिए सेना अपनी आतंकवाद रोधी रणनीति के तहत घुसपैठ पर अंकुश लगाने के लिए नियंत्रण रेखा पर दबदबा बनाए हुए है। इस रणनीति पर आगे बढते हुए सेना ने विशेष रूप से पाकिस्तान की उन चौकियों को निशाना बनाया है जहां से आतंकवादियों और घुसपैठियों की मदद की जा रही है। इन चौकियों को ध्वस्त किए जाने से घुसपैठियों और आतंकवादियों की कोशिशों को झटका लगा है।पाकिस्तान की सेना ने मंगलवार को भारत के उस दावे को गलत करार दिया जिसमें कहा गया है कि भारतीय सेना ने नियंत्रण रेखा पर ताब़डतो़ड गोले दाग कर नौशेरा सेक्टर में पाकिस्तानी सेना की एक चौकी को ध्वस्त कर दिया। इंटर-सर्विसेज पब्लिक रिलेशंस (आईएसपीआर) के महानिदेशक मेजर जनरल आसिफ गफूर ने ट्वीट किया, नौशेरा सेक्टर में नियंत्रण रेखा पर पाकिस्तानी चौकी को नष्ट करने और एलओसी के पास आम लोगों पर पाकिस्तानी सेना द्वारा गोलीबारी किए जाने के भारतीय दावे गलत हैं।