दी ब्वाडी क्लाक गाइड टू बेटर हेल्थ के मुताबिक १० में से महज १ ही व्यक्ति सही मायनों में मार्निंग पर्सन कहलाता है। लेकिन, अच्छी बात यह है कि १० में महज दो ही लोगों की स्थिति सुबह उठते हुए गंभीर होती है बाकी सब सामान्य रहते हैं। लेकिन, अगर आप चाहते हैं कि आपकी सुबह खिली-खिली हो, आप मार्निंग पर्सन कहलाएं तो इसके लिए आपको कुछ नियमों का पालन करना प़डेगा। अपना ध्यान देना होगा और सोने के घंटों में इजाफा कना होगा।ृमच्णर्‍ द्मर्‍्रख्र ध्ष्ठ्रडेलीबर्नडाटकाम वेबसाइट के मुताबिक, आपको चाहिए कि नियमित अच्छी नींद लें। अगर इसके लिए आपको अपने शिड्यूल में कुछ बदलाव करने होंगे तो उससे भी परहेज न करें। आप चाहें तो अपने काम को देर रात तक करने की बजाय देर शाम तक ही खत्म कर लें। अगर तब भी काम अधूरा रह जाए तो काम को वहीं अधूरा छो़ड सो जाएं और सुबह जल्दी उठने का नियम बनाएं। रात को ली गई नींद आपके स्वास्थ्य के लिए ज्यादा जरूरी है। जब नींद पूरी होती है तो सुबह त़डके उठने से आपको परहेज भी नहीं होगा।झ्द्भय्श्चञ्च् फ्द्बद्भ ध्ष्ठ्रआप एक रात में किला फतह नहीं कर सकते। इसलिए यह न सोचें कि आप अपने शिड्यूल को बैलेंस नहीं कर पा रहे हैं। इसके लिए बेहतर है कि आप पर्याप्त समय लें। धीरे-धीरे कर अपनी जीवनशैली में बदलाव करें। इतना ही नहीं संभव हो तो किसी विशेषज्ञ की राय भी ले सकती हैं। एक बात और ध्यान में रखें कि खुद को काम के बोझ के तले ने दबाए रखें।र्चैंट्टर्‍द्म द्धद्मय्ॅैं ृय्स्द्य र्ड्डैंय्ध्ह् ·र्ैंद्यष्ठ्रअक्सर देखने में आता है कि लोग रूटीन तो बना लेते हैं लेकिन उसे फालो नहीं करते। आपको बता दें कि यह तो ढाक के तीन पात वाली बात हो गई। बेहतरी यही है कि रूटीन बनाएं, इसके लिए आप किसी की मदद भी ले सकती हैं। साथ ही उसे फालो भी करें। आपको बता दें कि रूटीन बनाने के लिए मदद ली जा सकती है। लेकिन रूटीन फालो आपको खुद को ही करना होगा।्यख्रद्म द्बष्ठ्र ध्ष्ठ्र च्णह्ट्टर्‍ फ्ष्ठ द्वय्झ्·र्ैंर्‍अगर आप देर रात तक पर्याप्त नींद नहीं ले पाई हैं तो उसकी भरपाई के तहत दिन में ही छोटी सी झपकी ले सकती हैं। इससे आपको न सिर्फ रिलैक्स फील होगा बल्कि आपको शरीर को अच्छा भी महसूस होगा। आपको खुद को थकान की गर्त में नहीं महसूस करेंगी। लेकिन हमेशा कोशिश करें कि रात की नींद पूरी लें।डद्बय्ट्टश्चध्र्‍ क्वय्ॅैंविशेषज्ञों की मानें तो अगर आप सोने जा रही हैं तो इस समय दोनों ही तरह की स्थिति को नजरंदाज करें मसलन न तो बहुत ज्यादा खाएं और न ही भूखी रहें। ये दोनों ही स्थिति आपको मार्निंग पर्सन बनने नहीं दे सकती है। इसके उलट आपकी लाइफस्टाइल खराब कर सकती है, आपके हेल्थ पर नेगेटिव इफेक्ट छो़ड सकती है। एक बात और ध्यान रखें कि सोने से पहले वाशरूम जरूरी जाएं। शराब या काफी पीकर बेड पर जाने से बचें। यह आपके हेल्थ के लिए सही नहीं है।फ्द्नर्‍ द्ध्यžय्द्भय्ैं द्धैंख्र ·र्ैंद्यष्ठ्ररात को सोने से पहले कमरे की सभी बत्तियां बंद कर दें। दरअसल, ऐसा न करने से अच्छी और गहरी नींद लेने में समस्या होती है। इतना ही नहीं बत्तियां बंद करने से आपके अंदर की यानी ब्वाडी क्लाक को अलर्ट होने में मदद मिलती है। उसे दिन का और रात का सही-सही पता चलता है। लेकिन यदि आप कमरे की बत्तियां बंद नहीं करते हैं तो ब्वाडी क्लाक हर समय असमंजस में रहते हैं और वह आपको सही समय पर उठा नहीं पाते।