सांकेतिक चित्र
सांकेतिक चित्र

मेलबर्न/दक्षिण भारत। कोरोनारोधी टीके के बारे में ऑस्ट्रेलिया से अच्छी खबर आई है। इस देश के स्वास्थ्य मंत्री ग्रेग हंट ने कहा है कि ऑस्ट्रेलिया के लोगों को साल 2021 की तीसरी तिमाही तक यह टीका मिल सकता है।

ग्रेग हंट ने कहा कि इस टीके को क्वींसलैंड विश्वविद्यालय के विशेषज्ञ विकसित कर रहे हैं। उनके मुताबिक, टीका बनाने की प्रक्रिया तय किए गए समय से पहले चल रही है और विशेषज्ञों ने इसे कारगर पाया है।

ग्रेग हंट ने बताया कि यह टीका बुजुर्गों पर भी प्रभावी पाया गया है और इस लिहाज से बहुत खास है, चूंकि बुजुर्गों के कोरोना संक्रमित होने का खतरा भी ज्यादा होता है। टीके में कोरोना वायरस को निष्क्रिय करने वाले एंटीबॉडी के उत्पादन की क्षमता मौजूद है।

मंत्री ने बताया कि इस टीके का जैव प्रौद्योगिकी कंपनी सीएसएल ने उत्पादन पूरा कर लिया है जिससे तीसरे दौर का ट्रायल पूरा किया जा सकेगा। उन्होंने इसे असाधारण उपलब्धि करार देते हुए बताया कि यह ट्रायल के बाद 2021 की तीसरी तिमाही की शुरुआत में ऑस्ट्रेलिया के लोगों के लिए उपलब्ध हो सकेगा। उन्होंने 2021 के आखिर तक ऑस्ट्रेलिया में सभी लोगों को टीका उपलब्ध कराने का लक्ष्य होने की बात कही है।