mulayam singh yadav
mulayam singh yadav

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के पूर्व अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव ने अपने मन की ‘पीड़ा’ जाहिर करते हुए कहा है कि अब कोई भी उनका सम्मान नहीं करता। शायद लोग उनका सम्मान मौत के बाद ही करें। मुलायम ने कहा है कि देश में परंपरा बन गई कि लोगों का सम्मान उनकी मौत के बाद ही होता है। सपा के दिग्गज नेता इन दिनों पार्टी में हाशिए पर हैं और सार्वजनिक कार्यक्रमों में पहले जितनी सक्रियता नहीं दिखती।

इसके अलावा मुलायम अब सार्वजनिक रूप से भाषण देते भी कम ही नजर आते हैं। अब उन्होंने बातों ही बातों में यह इशारा कर दिया कि उनका वह मान-सम्मान नहीं रहा जो पहले हुआ करता था। उन्होंने लोहिया का उल्लेख करते हुए कहा कि इस देश में जिंदा रहते लोग सम्मान नहीं करते।

मुलायम लखनऊ में कार्यकर्ताओं को संबोधित कर रहे थे। इसी दौरान उन्होंने अपने मन की यह बात कह डाली। इस अवसर पर उन्होंने अपने पुराने दिनों को याद किया और भावुक हो गए। उन्होंने कार्यकर्ताओं से आह्वान किया कि वे वरिष्ठ नेताओं की सादगी से शिक्षा लें।

उल्लेखनीय है कि सपा नेता आज़म ख़ान ने भी मौत को लेकर एक बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि यदि मौत के बाद खूब सम्मान मिले तो वे इसके ​लिए तैयार हैं। उन्होंने स्व. अटल बिहारी वाजपेयी की अस्थि कलश यात्रा के सन्दर्भ में यह विवादित बयान दिया था, जिसके बाद उनकी काफी आलोचना हुई।

ये भी पढ़िए:
– मुस्लिम महिला ने मोदी-योगी की पेंटिंग बनाई तो आगबबूला हुआ पति, घर से निकाला
– शादी करेंगे तो इस खतरनाक बीमारी से रहेंगे अधिक सुरक्षित, कुंवारों को ज्यादा खतरा
– वीडियो: अमर सिंह ने अखिलेश को बताया ‘नमाजवादी’ पार्टी का अध्यक्ष, आज़म को बोले ‘राक्षस’
– ग़ज़ब: केवल कन्नड़ भाषा समझते थे हाथी, अब हिंदी में भी हो गए पारंगत