कारगिल युद्ध में तिरंगा फहरा रहे भारत के योद्धा।
कारगिल युद्ध में तिरंगा फहरा रहे भारत के योद्धा।

कोलकाता/भाषा। पूर्वी सैन्य कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल एमएम नरावने ने शुक्रवार को कहा कि करगिल में जबरदस्त हार के बावजूद ऐसा लगता नहीं है कि पाकिस्तान ने इससे कोई सबक लिया है क्योंकि वह लगातार संघर्षविराम का उल्लंघन कर रहा है।

पूर्वी कमान के जनरल ऑफिसर कमांडिंग इन चीफ (जीओसी-इन-सी) नरावने ने कहा कि सेना किसी भी परिस्थिति के लिए तैयार है। उन्होंने कहा, (कारगिल) विजय के 20 साल पूरा होने के अवसर पर हम देश की रक्षा और सम्प्रभुता की सुरक्षा के लिए अपने आपको समर्पित कर रहे हैं।

उन्होंने कहा, कुछ लोग कभी सबक नहीं लेते हैं। आपको उन्हें तब तक सबक सिखाते रहना पड़ता है, जब तक कि वे सबक सीख नहीं लेते। कारगिल में जबरदस्त हार के बावजूद देश का पश्चिमी पड़ोसी बेकार के विवादों में शामिल रहता है और लगातार संघर्ष विराम उल्लंघन कर रहा है।

‘कारगिल दिवस’ के अवसर पर उन्होंने मीडियाकर्मियों से कहा, जितनी जल्दी वे इसे खत्म करेंगे, उतनी जल्दी सबका विकास होगा। नरावने को अगला वाइस चीफ आफ आर्मी नियुक्त किया गया है।

जीओसी-इन-सी ने 1999 के करगिल युद्ध में अपना जीवन बलिदान करने वाले सैनिकों को यहां पूर्वी कमान मुख्यालय फोर्ट विलियम में आयोजित एक कार्यक्रम में पुष्पचक्र अर्पित कर श्रद्धांजलि दी।

इस कार्यक्रम में पूर्व वायुसेना प्रमुख एयर मार्शल (सेवानिवृत्त) अरूप राहा, नौसेना ऑफिसर इन-चार्ज, बंगाल क्षेत्र, कमोडोर सुप्रभो डे एवं सशस्त्र बल के अन्य सेवारत एवं सेवानिवृत्त अधिकारियों एवं कर्मियों ने हिस्सा लिया।