प्रशांत किशोर के सर्वे में भी छाए मोदी, लोगों ने प्रधानमंत्री पद के लिए माना सबसे भरोसेमंद चेहरा!

352
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

सर्वे में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी प्रधानमंत्री मोदी से पिछड़ते नजर आ रहे हैं। हालांकि वे इस दौड़ में अभी दूसरे स्थान पर हैं। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल यहां खास कमाल नहीं दिखा पाए। वे सर्वे में तीसरे स्थान पर हैं। वहीं पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी चौथे स्थान पर हैं।

नई दिल्ली। देश में लोकसभा चुनावों की चर्चा तेज हो रही है। राजनेताओं के अलावा चुनाव विश्लेषक भी मतदाताओं का रुख भांपने में जुटे हैं। चुनाव रणनीति बनाने के लिए मशहूर हुए प्रशांत किशोर इन दिनों एक सर्वे में जुटे हैं और यह अंदाजा लगाने की कोशिश कर रहे हैं कि मतदाता किस राजनेता को देश का अगला प्रधानमंत्री देखना चाहते हैं। प्रशांत किशोर अपनी वेबसाइट ‘नेशनल एजेंडा फोरम’ के जरिए यह सर्वे कर रहे हैं। उन्होंने मतदाताओं से सवाल किया कि अपने नेता के रूप में आप किसे पसंद करेंगे।

सर्वे के नतीजों में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दूसरों पर भारी पड़े हैं। ज्यादातर लोगों ने मोदी पर भरोसा जताया है और उन्हें दोबारा देश की बागडोर सौंपना चाहते हैं। अभी तक मोदी दूसरे चेहरों से आगे चल रहे हैं। अगर सर्वे की तस्वीर हकीकत में बदली तो इसका मतलब है कि मोदी अब तक लोगों के सबसे ज्यादा पसंदीदा राजनेता बने हुए हैं। विपक्ष के लिए यह सर्वे इसलिए चिंताजनक है क्योंकि उसका कोई नेता ज्यादातर लोगों को आकर्षित करने में सफल नहीं हो रहा है।

कौन किस स्थान पर?
प्रशांत किशोर इन दिनों बतौर विश्लेषक आम जनता का मन टटोलने में जुटे हैं। इसके लिए उन्होंने सर्वे में कई बिंदुओं को शामिल किया है ताकि लोग बेहतर तरीके से अपनी राय दे सकें। नेशनल एजेंडा फोरम पर अपने पसंदीदा राजनेता का नाम बताने के अलावा लोग मुद्दों के बारे में भी बता रहे हैं, जो मौजूदा दौर में ज्यादा अहमियत रखते हैं।

इस सर्वे में सियासत के चर्चित चेहरों को शामिल किया गया है। अगर किसी यूजर को उनमें से कोई उम्मीदवार पसंद नहीं तो वह अपनी पसंद से नया नाम भी जोड़ सकता है। सर्वे में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी प्रधानमंत्री मोदी से पिछड़ते नजर आ रहे हैं। हालांकि वे इस दौड़ में अभी दूसरे स्थान पर हैं। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल यहां खास कमाल नहीं दिखा पाए। वे सर्वे में तीसरे स्थान पर हैं। वहीं पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी चौथे स्थान पर हैं। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पांचवें स्थान पर रहे हैं।

ये मुद्दे भी छाए
इस सर्वे के लिए लोगों को वोटिंग से पहले अपना एजेंडा चुनना जरूरी था। हर यूजर 10 मुद्दों को अपनी प्राथमिकता में शामिल कर सकता है। इसमें भी लोगों ने शिक्षा, स्वास्थ्य, रोजगार, किसानों की समस्या, आर्थिक समानता, महिला सुरक्षा जैसे मुद्दे चुने हैं। उनमें से 18 मुद्दे सबसे ज्यादा चर्चा में हैं। सर्वे में यह उभरकर आया है ​कि जनता छात्रों के मुद्दों को सबसे ज्यादा प्राथमिकता दे रही है। उनके लिए बेहतर अवसरों की मांग की जा रही है। लोग ऐसा माहौल चाहते हैं ताकि युवा ज्यादा से ज्यादा राष्ट्रनिर्माण में योगदान दे सकें।

15 अगस्त को आएंगे आखिरी नतीजे
यह सर्वे अभी जारी है और इसमें 14 अगस्त तक लोग शामिल होकर अपनी राय दे सकेंगे। स्वतंत्रता दिवस पर इसके आखिरी नतीजे घोषित होंगे। जो नेता इस सर्वे में प्रथम स्थान पर आएगा, नेशनल एजेंडा फोरम की टीम उससे मिलने जाएगी और लोगों की उम्मीदों के बारे में बताकर महत्वपूर्ण बिंदुओं को चुनाव घोषणा-पत्र में शामिल करने की मांग करेगी। इस अवधि में कई और मुद्दे चर्चा में आएंगे और पसंदीदा राजनेता की तस्वीर ज्यादा आंकड़ों के साथ उभरकर सामने आएगी।

ये भी पढ़िए: 
– महागठबंधन की तीन कमजोर कड़ियां
– अर​बपति निवेशक बोले- ‘दोबारा सत्ता में आएगी भाजपा, मोदी फिर बनेंगे प्रधानमंत्री’
– आॅनलाइन आॅर्डर देकर मंगवाया सोने का सिक्का, पार्सल खोला तो होश उड़ गए!