gvl narsimha rao
gvl narsimha rao

नई दिल्ली/दक्षिण भारत। भारतीय जनता पार्टी ने बुधवार को एक प्रेसवार्ता कर संप्रग-2 सरकार के कार्यकाल के दौरान फौजी तख्तापलट के संबंध में छपी खबरों को लेकर कांग्रेस पर हमला बोला। भाजपा मुख्यालय में पार्टी के प्रवक्ता जीवीएल नरसिम्हा राव ने कांग्रेस पर कई सवाल दागे। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं ने सेना के खिलाफ ये खबरें छपवाई थीं। उन्होंने इसके लिए मनमोहन सरकार के चार मंत्रियों पर आरोप लगाए और कहा कि सेना के खिलाफ तख्तापलट की झूठी खबरें छापकर उसका अपमान किया गया।

गौरतलब है कि संप्रग-2 सरकार के दौरान जनवरी 2012 में एक अखबार में फौजी तख्तापलट के संबंध में खबर प्रकाशित हुई थी, जिस पर काफी विवाद हुआ था। उस समय जनरल वीके सिंह थल सेना प्रमुख थे और सरकार के साथ उनके रिश्ते काफी तनावपूर्ण हो चुके थे। अब भाजपा ने उस रिपोर्ट का हवाला देकर कांग्रेस की मंशा पर सवाल उठाए हैं। पार्टी के मुताबिक, मनमोहन सरकार के चार मंत्री इस साजिश में शरीक थे।

भाजपा ने कांग्रेस शासन के दौरान देश की सुरक्षा के साथ खिलवाड़ होने का आरोप लगाया। इसके अलावा राहुल गांधी से इस मामले में जवाब मांगा। भाजपा प्रवक्ता ने संसदीय समिति से मांग की है कि इस मामले की जांच कराई जाए। उन्होंने कांग्रेस के शासन में भ्रष्टाचार का भी आरोप लगाया।

रिपोर्ट के अनुसार, तख्तापलट की खबरों के बीच तत्कालीन प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह ने आईबी के अधिकारियों को बुलाया था और इस संबंध में जानकारी मांगी। हालांकि आईबी अधिकारियों ने तख्तापलट की खबर को खारिज किया और बताया कि ऐसी कोई कोशिश नहीं की जा रही। तत्कालीन रक्षा मंत्री एके एंटनी भी मामले पर सफाई चुके हैं। उन्होंने कहा कि इस पर संसद में बयान दे चुके हैं।

वहीं रक्षा मामलों की संसदीय समिति के सदस्य नरसिम्हा इस मामले की जांच पर जोर दे रहे हैं। उन्होंने समिति के अध्यक्ष कलराज मिश्रा से बैठक बुलाने की भी मांग की है। नरसिम्हा ने कहा कि ऐसी खबरों के पीछे जिम्मेदार लोग और उनके मकसद का खुलासा करना जरूरी है। सेना के अधिकारियों को जांच में शामिल कर पर्दाफाश करवाया जाए।