madhya pradesh election 2018
madhya pradesh election 2018

भोपाल/आइजोल। मध्य प्रदेश और मिजोरम में बुधवार को विधानसभा चुनाव हैं। इसके लिए मतदान प्रक्रिया शुरू हो गई है। मध्य प्रदेश में 230, वहीं मिजोरम में 40 सदस्यीय विधानसभा के लिए वोट डाले जा रहे हैं। इस बार खासतौर से मध्य प्रदेश में मुकाबला बेहद कड़ा होने जा रहा है। यहां मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पर सबकी नजरें हैं। वे यहां तीन बार से मुख्यमंत्री हैं।

यदि चौहान जीत का चौका लगाने में कामयाब हो गए तो पार्टी और प्रदेश में उनका कद और बढ़ जाएगा। अगर यहां परिणाम भाजपा की आशा के अनुकूल नहीं रहे तो भाजपा को लोकसभा चुनाव के लिए और बेहतर रणनीति बनानी होगी। मिजोरम में कांग्रेस के सामने चुनौतियां कम नहीं हैं। अब देखना यह होगा कि वहां कांग्रेस अपना किला बचाने में कामयाब होगी है या उत्तर-पूर्व के एक और राज्य में कमल खिलेगा।

अब तक की झलकियां
मध्य प्रदेश में मतदाता उत्साहपूर्वक वोटिंग में भाग ले रहे हैं। यहां सुबह सात बजे वो​टिंग शुरू हुई। प्रदेश के बालाघाट जिले के नक्सल प्रभावित क्षेत्रों परसवाड़ा, बैहर एवं लांजी में भी पोलिंग बूथ के बाहर मतदाताओं की कतारें लग गई हैं। लोगों ने नक्सलियों की धमकी को नजरअंदाज कर लोकतंत्र की राह चुनी।

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने नर्मदा नदी के तट पर सपरिवार पूजा-अर्चना की। उन्होंने बुधनी विधानसभा क्षेत्र के जैत गांव में अपने परिजनों के साथ वोट डाला। उन्होंने सभी लोगों से मतदान की अपील की। चौहान के साथ उनकी पत्नी साधना सिंह व बेटा कार्तिकेय भी थे। बता दें कि शिवराज सिंह बुधनी से चुनाव लड़ रहे हैं।

वरिष्ठ कांग्रेस नेता कमलनाथ ने छिंदवाड़ा स्थित हनुमान मंदिर में पूजा की और मतदान किया। उन्होंने प्रदेश में कांग्रेस की जीत का भरोसा जताया है। इस बीच ग्वालियर जिले के दबरा में पोलिंग बूथ संख्या 178 की ईवीएम में तकनीकी खराबी के समाचार हैं। मध्य प्रदेश में पहली बार वोट डाल रहे युवाओं में खासा उत्साह है। युवा वोट डालने के बाद अंगुली पर लगी अमिट स्याही की तस्वीर सोशल मीडिया पर पोस्ट कर रहे हैं। मिजोरम में भी मतदान केंद्रों के बाहर कतारें लगी हैं। यहां धीरे-धीरे शांतिपूर्वक मतदान हो रहा है।