प्रतीकात्मक चित्र
प्रतीकात्मक चित्र

वर्धा। महाराष्ट्र के वर्धा में सेना के हथियार डिपो में मंगलवार को धमाका हुआ। इसमें चार लोगों की मौत हो गई। वहीं 11 लोग घायल हो गए। जानकारी के अनुसार, यह धमाका उस वक्त हुआ जब पुराने विस्फोटक को नष्ट करने की प्रक्रिया जारी थी। अचानक धमाके से यहां लोगों को संभलने का मौका नहीं मिला।

घटनास्थल वर्धा से करीब 18 किमी की दूरी पर स्थित पुलगांव आर्मी डिपो में है। धमाके की गूंज दूर तक सुनी गई। इससे आसपास के इलाकों में भय का माहौल हो गया। सुरक्षाकर्मियों ने पूरे इलाके को चारों ओर से घेर लिया और बाहर से किसी को अंदर जाने की इजाजत नहीं दी। जानकारी के अनुसार, मामला चूंकि विस्फोटक पदार्थों से जुड़ा है, इसलिए आसपास के इलाकों को खाली करा लिया गया है।

बताया जा रहा है कि जब यह घटना हुई तो यहां सुबह की पारी में काम करने वाले करीब 40 लोग मौजूद थे। यहां पुराने विस्फोटक को हटाया और नष्ट किया जा रहा था। तभी सुबह करीब आठ बजे जोरदार धमाका हो गया। घटना में घायल हुए लोगों को स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया है। सूचना मिलने के बाद अधिकारी और बचावकर्मी मौके पर पहुंचे हैं।

बता दें कि हथियार डिपो की एक तय प्रक्रिया के अनुसार पुराने और अनुपयोगी विस्फोटकों को निष्क्रिय किया जाता है। पुलगांव डिपो में भी ऐसा किया जा रहा था कि बड़ा धमाका हो गया। जिलाधिकारी ने बताया कि यह धमाका सीएडी के बाहर हुआ और आग ज्यादा फैलने की आशंका नहीं है। घटना के बाद आपदा प्रबंधन टीम अपने कार्य में जुट गई है।