new farakka express train derailed
new farakka express train derailed

रायबरेली। उत्तर प्रदेश के रायबरेली में बुधवार तड़के रेल दुर्घटना में सात लोगों की मौत हो गई। जानकारी के अनुसार, न्यू फरक्का एक्सप्रेस की नौ बोगियां पटरी से उतर गईं। दुर्घटना में कई लोगों के घायल होने के समाचार हैं। यह हादसा हरचंदपुर स्टेशन के करीब हुआ है। सूचना मिलने के बाद स्थानीय लोग मदद करने के लिए दौड़े। पुलिस की टीम बचाव एवं राहत कार्य में जुट गई है। मामले की जांच के लिए एटीएस की टीम भी मौके पर पहुंची।

विभिन्न रिपोर्टों के अनुसार, जब हरचंदपुर स्टेशन सिर्फ 50 मीटर की दूरी पर था, तभी न्यू फरक्का एक्सप्रेस की नौ बोगियां पटरी से उतर गईं। तड़के यकायक ऐसी घटना से लोग घबरा गए और चारों ओर चीख-पुकार होने लगी।

दुर्घटना की सूचना मिलते ही स्थानीय लोग बचाव में जुट गए। घटनास्थल की तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल होने लगीं। जानकारी के मुताबिक, एनडीआरएफ की टीम भी घटनास्थल के लिए रवाना की गई। एंबुलेंस की मदद से घायलों को अस्पताल पहुंचाया जा रहा है। यह ट्रेन मालदा से रायबरेली होते हुए दिल्ली जा रही थी, लेकिन रास्ते में ही हादसा हो गया।

मुख्यमंत्री ने दिए आदेश
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रशासनिक अधिकारियों और एनडीआरएफ की टीम को आदेश दिया है कि वे दुर्घटनास्थल पर पहुंचकर लोगों को हरसंभव मदद पहुंचाएं। बता दें कि एनडीआरफ की टीमें राहत कार्यों में जुट गई हैं। स्थानीय लोग भी यात्रियों की मदद करने के लिए आगे आए हैं। खबर है कि रेलवे बोर्ड के चेयरमैन अश्विनी लोहानी भी रवाना हो गए हैं।

ये हैं हेल्पलाइन नंबर
प्रशासन ने दो हेल्पलाइन नंबर भी जारी किए हैं जो इस प्रकार हैं: बीएसएनएल- 05412-254145 और रेलवे- 027-73677. मालदा हेल्पलाइन नंबर- 03512-266000, 269055. पटना रेलवे स्टेशन बीएसएनएल- 0612-2202290, 0612-2202291, 0612-220229.

मुआवजे का ऐलान
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मुआवजे का ऐलान किया है। इस दुर्घटना में दिवंगत लोगों के परिजनों को 2 लाख रुपए और घायलों को 50,000 रुपए बतौर मुआवजा दिए जाएंगे।

ये भी पढ़िए:
– कांग्रेस को मायावती की खरी-खरी: सीटों की भीख नहीं मांगेंगे, अपने दम पर लड़ सकते हैं चुनाव
– कौन थे सर छोटूराम जिनकी प्रतिमा का प्रधानमंत्री मोदी ने किया अनावरण?
– रिपोर्ट: आतंकी मसूद अजहर को हो गई जानलेवा बीमारी, डेढ़ साल से है बिस्तर पर
– ब्रह्मोस मिसाइल की इन खूबियों से खौफ में है पाकिस्तान, इसलिए करवाता है जासूसी