logo
130 करोड़ नागरिकों को भारत को 'आत्मनिर्भर', शक्तिशाली बनाने का संकल्प लेना चाहिए: शाह
गृह मंत्री ने भारत की आजादी के 75 साल होने संबंधी समारोह के तहत केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों की एक साइकिल रैली का स्वागत किया
 

शाह ने कहा, मैं देश के सभी नागरिकों से आग्रह करता हूं कि भारत को पांच हजार अरब डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाने और देश को आत्मनिर्भर एवं विकसित बनाने के प्रधानमंत्री के सपने को साकार करने के लिए एकजुट हों और खुद को समर्पित करें।

नई दिल्ली/भाषा। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने शनिवार को देश के लोगों से यह संकल्प लेने का आह्वान किया कि वे स्वतंत्रता की 100वीं वर्षगांठ तक भारत को एक आत्मनिर्भर और शक्तिशाली राष्ट्र बनाने के लिए अपने-अपने स्तर पर कदम उठाएंगे।

उन्होंने कहा कि जनता की यह चेतना प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 'आत्मनिर्भर भारत', ‘मेक इन इंडिया’ और अन्य योजनाओं के माध्यम से परिकल्पित रचनात्मक कार्रवाई को बल प्रदान करेगी।

शाह यहां लाल किले में आयोजित एक कार्यक्रम में बोल रहे थे जहां उन्होंने राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड (एनएसजी) कमांडो की 7,500 किलोमीटर की कार रैली को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।

गृह मंत्री ने भारत की आजादी के 75 साल होने संबंधी समारोह के तहत केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों की एक साइकिल रैली का स्वागत किया जिसका समापन यहां देश के 41,000 किलोमीटर से अधिक क्षेत्र को पार करने के बाद हुआ।

शाह ने कहा, ‘अगर 130 करोड़ नागरिकों में से प्रत्येक व्यक्ति देश को आगे ले जाने और इसके विकास के लिए काम करने का संकल्प लेता है तो हम भारत को आत्मनिर्भर बना सकते हैं और इसे एक शक्तिशाली राष्ट्र के रूप में स्थापित कर सकते हैं।’

उन्होंने कहा कि 'आजादी का अमृत महोत्सव' के दौरान नागरिकों के लिए प्रधानमंत्री के आह्वान का उद्देश्य जनता के बीच एक प्रेरणा उत्पन्न करने का है, जिसके परिणामस्वरूप कार्रवाई होगी जिससे भारत का विकास होगा।

शाह ने कहा, मैं देश के सभी नागरिकों से आग्रह करता हूं कि भारत को पांच हजार अरब डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाने और देश को आत्मनिर्भर एवं विकसित बनाने के प्रधानमंत्री के सपने को साकार करने के लिए एकजुट हों और खुद को समर्पित करें।

उन्होंने कहा, भारत की आजादी के 75 साल पूरे होने का जश्न मनाने के लिए आयोजित होने वाले कार्यक्रमों का उद्देश्य युवा पीढ़ी को प्रेरित करना और भारत के विकास के लिए मार्ग प्रशस्त करने का है।

नई दिल्ली/भाषा। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने शनिवार को देश के लोगों से यह संकल्प लेने का आह्वान किया कि वे स्वतंत्रता की 100वीं वर्षगांठ तक भारत को एक आत्मनिर्भर और शक्तिशाली राष्ट्र बनाने के लिए अपने-अपने स्तर पर कदम उठाएंगे।

उन्होंने कहा कि जनता की यह चेतना प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 'आत्मनिर्भर भारत', ‘मेक इन इंडिया’ और अन्य योजनाओं के माध्यम से परिकल्पित रचनात्मक कार्रवाई को बल प्रदान करेगी।

शाह यहां लाल किले में आयोजित एक कार्यक्रम में बोल रहे थे जहां उन्होंने राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड (एनएसजी) कमांडो की 7,500 किलोमीटर की कार रैली को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।

गृह मंत्री ने भारत की आजादी के 75 साल होने संबंधी समारोह के तहत केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों की एक साइकिल रैली का स्वागत किया जिसका समापन यहां देश के 41,000 किलोमीटर से अधिक क्षेत्र को पार करने के बाद हुआ।

शाह ने कहा, ‘अगर 130 करोड़ नागरिकों में से प्रत्येक व्यक्ति देश को आगे ले जाने और इसके विकास के लिए काम करने का संकल्प लेता है तो हम भारत को आत्मनिर्भर बना सकते हैं और इसे एक शक्तिशाली राष्ट्र के रूप में स्थापित कर सकते हैं।’

उन्होंने कहा कि 'आजादी का अमृत महोत्सव' के दौरान नागरिकों के लिए प्रधानमंत्री के आह्वान का उद्देश्य जनता के बीच एक प्रेरणा उत्पन्न करने का है, जिसके परिणामस्वरूप कार्रवाई होगी जिससे भारत का विकास होगा।

शाह ने कहा, मैं देश के सभी नागरिकों से आग्रह करता हूं कि भारत को पांच हजार अरब डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाने और देश को आत्मनिर्भर एवं विकसित बनाने के मोदी जी के सपने को साकार करने के लिए एकजुट हों और खुद को समर्पित करें।

उन्होंने कहा, भारत की आजादी के 75 साल पूरे होने का जश्न मनाने के लिए आयोजित होने वाले कार्यक्रमों का उद्देश्य युवा पीढ़ी को प्रेरित करना और भारत के विकास के लिए मार्ग प्रशस्त करने का है।