प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर राष्ट्रीय ध्वज को सलाम करते हुए।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर राष्ट्रीय ध्वज को सलाम करते हुए।

नई दिल्ली/भाषा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को विश्वास व्यक्त किया कि 130 करोड़ देशवासियों की संकल्प शक्ति से भारत कोरोना वायरस के खिलाफ जारी जंग जीतेगा। 74वें स्वतंत्रता दिवस के मौके पर लाल किले की प्राचीर से देशवासियों को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा कि देश एक विशिष्ट परिस्थिति से गुजर रहा है।

उन्होंने कहा, ‘कोरोना वायरस के इस असाधारण समय में, सेवा परमो धर्म: की भावना के साथ अपने जीवन की परवाह किए बिना हमारे डॉक्टर, नर्स, पैरामेडिकल स्टाफ, एंबुलेंस कर्मी, सफाई कर्मचारी, पुलिसकर्मी, सेवाकर्मी और अनेक लोग, चौबीसों घंटे लगातार काम कर रहे हैं।’

ऐसे कोरोना योद्धाओं को नमन करते हुए मोदी ने कहा, ‘मुझे विश्वास है कि 130 करोड़ देशवासियों की इच्छा शक्ति व संकल्प शक्ति हमें इसमें भी विजय दिलाएगी और हम विजयी होकर रहेंगे। मुझे विश्वास है।’ प्रधानमंत्री ने कोरोना कालखंड के दौरान जान गंवाने वाले लोगों के परिजनों के प्रति संवेदना प्रकट की।

इस अवसर पर उन्होंने स्वतंत्रता के आंदोलन में कुर्बानी देने वाले सभी सेनानियों को भी याद किया और उन्हें नमन किया। इससे पहले लाल किले पहुंचने पर प्रधानमंत्री ने तिरंगा झंडा फहराया और देशवासियों को स्वतंत्रता दिवस की बधाई दी।

प्रधानमंत्री लाल किले की प्राचीर से स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर लगातार सातवीं बार देश को संबोधित कर रहे हैं। कोविड-19 महामारी के साये में लाल किले पर आयोजित होने वाले स्वतंत्रता दिवस समारोह के लिए चार हजार से अधिक लोगों को आमंत्रित किया गया है जिनमें अधिकारी, राजनयिक और मीडियाकर्मी शामिल हैं। इसके मद्देनजर सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किए गए है।

अधिकारियों ने बताया कि लाल किले पर स्वतंत्रता दिवस समारोह की सुरक्षा व्यवस्था के लिए 300 से अधिक कैमरे लगाए गए हैं और उनकी फुटेज पर नजर रखी जा रही है। यहां तैनात सुरक्षाकर्मी सामाजिक दूरी के नियमों का पालन कर रहे हैं।

रेलवे स्टेशनों और उनके आसपास की सुरक्षा भी कड़ी कर दी गई है। दिल्ली पुलिस के अतिरिक्त पीआरओ अनिल मित्तल ने कहा, ‘सभी प्रकार के खतरों से निपटने के लिए सभी एजेंसियां एक दूसरे के समन्वय से काम कर रही हैं।’

उन्होंने बताया कि स्वाट दल और पराक्रम वैन तैनात की गई हैं। पुलिस उपायुक्त (रेलवे) हरेंद्र कुमार सिंह ने कहा, ‘रेलवे स्टेशनों और पटरियों के किनारे सुरक्षाकर्मियों को तैनात किया गया है। स्वतंत्रता दिवस के दिन वीवीआईपी लोगों की आवाजाही के कारण लाल किले के पास पटरियों पर सुबह 6.45 बजे से सुबह 8.45 बजे तक ट्रेनों की आवाजाही नहीं होगी।’

फुल ड्रेस रिहर्सल के दौरान सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई थी और यातायात पर प्रतिबंध लगा दिया गया था। लालकिले को स्वतंत्रता दिवस समारोह से पहले ही जनता के लिए बंद कर दिया गया। इस बीच, राष्ट्रीय राजधानी में सुरक्षा कड़ी करते हुए दिल्ली पुलिस ने जांच अभियान तेज कर दिया है।