भाजपा कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी
भाजपा कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

नई दिल्ली/दक्षिण भारत। बिहार विधानसभा चुनाव में राजग को सफलता मिलने के बाद बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भाजपा मुख्यालय में कार्यकर्ताओं को संबोधित कर आभार व्यक्त किया। इस दौरान उन्होंने अन्य राजनीतिक दलों में फैले परिवारवाद पर जोरदार हमला बोला। साथ ही भाजपा कार्यकर्ताओं की हत्याओं का जिक्र कर पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनावों की तैयारियों में जुटने के संकेत दिए।

प्रधानमंत्री ने कहा कि धन्यवाद इसलिए नहीं कि उन्होंने चुनावों में भाजपा को इतनी बड़ी सफलता दी है, इसके तो वो हकदार हैं ही। धन्यवाद इसलिए क्योंकि लोकतंत्र के इस महान पर्व को हम सभी ने मिलकर बहुत उत्साह से मनाया है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि चुनाव भले ही कुछ सीटों और कुछ क्षेत्रों पर हुआ हो लेकिन कल सुबह से लेकर देर रात तक पूरे देश की नजरें टीवी, सोशल मीडिया और चुनाव आयोग की वेबसाइट पर थीं। लोकतंत्र के प्रति हम भारतीयों की जो आस्था है उसकी मिशाल पूरी दुनिया में कहीं नहीं मिलती।

प्रधानमंत्री ने कहा कि कोरोना के इस संकट काल में ये चुनाव कराना आसान नहीं था। लेकिन हमारी लोकतांत्रिक व्यवस्थाएं इतनी सशक्त हैं, पारदर्शी हैं कि इस संकट के बीच भी उन्होंने इतना बड़ा चुनाव कराकर दुनिया को भी भारत की ताकत की पहचान करा दी है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि इन चुनाव परिणामों में भाजपा को, राजग को अपार जनसमर्थन मिला है। इसके लिए भाजपा, राजग के लाखों कार्यकर्ता भाइयों-बहनों को जितनी बधाई दूं, उतनी कम है। मैं हर कार्यकर्ता और उनके परिजन को हृदय से बधाई देता हूं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि भाजपा पूर्व में जीती, मणिपुर में कमल का झंडा फहरा दिया। भारतीय जनता पार्टी पश्चिम में जीती, गुजरात में जीती। भाजपा को उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश में विजय प्राप्त हुई और भाजपा को दक्षिण में कर्नाटका-तेलंगाना में सफलता मिली।

प्रधानमंत्री ने कहा कि 21वीं सदी के भारत के नागरिक, बार-बार अपना संदेश स्पष्ट कर रहे हैं। अब सेवा का मौका उसी को मिलेगा, जो देश के विकास के लक्ष्य के साथ ईमानदारी से काम करेगा। हर राजनीतिक दल से देश के लोगों की यही अपेक्षा है कि देश के लिए काम करो, देश के काम से मतलब रखो।

प्रधानमंत्री ने कहा कि देश का विकास, राज्य का विकास, आज सबसे बड़ी कसौटी है और आने वाले समय में भी यही चुनाव का आधार रहने वाला है। जो लोग ये नहीं समझ रहे, इस बार भी उनकी जगह-जगह जमानत जब्त हो गई है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि आज देश, भाजपा और राजग पर जो स्नेह दिखा रहा है, उसकी सबसे बड़ी वजह यही है कि भाजपा ने, राजग ने देश के विकास, लोगों के विकास को अपना सर्वोपरि लक्ष्य बनाया हुआ है। हम हर वो काम करेंगे जो देश को आगे ले जाए।

प्रधानमंत्री ने कहा कि आज भाजपा ही देश की एकमात्र राष्ट्रीय पार्टी है, जिसमें गरीब, दलित, पीड़ित, शोषित, वंचित अपना प्रतिनिधित्व देखते हैं। आज भाजपा ही देश की एकमात्र राष्ट्रीय पार्टी है, जो समाज के हर वर्ग की आवश्यकताओं को समझती है, उनके लिए काम कर रही है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि आज भाजपा ही एकमात्र पार्टी है जो राष्ट्रीय आकांक्षाओं के साथ ही हर क्षेत्र के गौरव को भी उतने ही गर्व के साथ अपने साथ लेकर चलती है। देश के नौजवानों को सबसे ज्यादा भरोसा किसी पर है तो वो भाजपा है। दलितों-पीड़ितों-शोषितों की अगर कोई आवाज है, तो वो भाजपा है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि आर्थिक सुधार हो, कृषि सुधार हों या फिर देश की सुरक्षा, शिक्षा की बात हो, नई व्यवस्थाओं की बात हो या फिर किसानों-श्रमिकों का हित, ये भाजपा ही है जिस पर देश आज सबसे ज्यादा भरोसा कर रहा है। ये भरोसा भाजपा के लिए, मेरे लिए, आपके प्रधानसेवक के लिए बहुत बड़ी पूंजी है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि ये भाजपा ही है जिसके लिए जनता जनार्दन का स्नेह बढ़ता ही जा रहा है। लोकसभा चुनाव में पार्टी ने पहले से ज्यादा सीटें जीतकर सरकार में अपनी वापसी की। बिहार में तीन बार सरकार में रहने के बाद भाजपा ही एकमात्र पार्टी है, जिसकी सीटों में बढ़ोतरी हुई।

प्रधानमंत्री ने कहा कि भाजपा की सफलता के पीछे उसका गवर्नेंस मॉडल है। जब लोग गवर्नेंस के बारे में सोचते हैं, तो भाजपा के बारे में सोचते हैं। भाजपा सरकारों की पहचान ही है – गुड गवर्नेंस।

प्रधानमंत्री ने कहा कि गुजरात में भाजपा 90 के दशक से है और वहां भी इन उपचुनावों में पार्टी ने सभी सीटें जीतकर दिखाईं। मध्य प्रदेश में भी भाजपा ने सीटें जोड़ी है, जबकि वहां भी हमारी सरकार इतने वर्षों से है। यानी देश के लोग भाजपा को ही बार—बार मौका दे रहे हैं, भाजपा पर ही सबसे ज्यादा विश्वास कर रहे हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि बिहार तो सबसे खास है। अगर आज आप मुझे बिहार के चुनाव नतीजों के बारे में पूछेंगे तो मेरा जवाब भी जनता के जनादेश की तरह साफ है- बिहार में सबका साथ-सबका विकास, सबका विश्वास के मंत्र की जीत हुई है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि बिहार में विकास के कार्यों की जीत हुई है। बिहार में सच जीता है, विश्वास जीता है! बिहार का युवा जीता है, माताएं-बहनें-बेटियां जीती हैं! बिहार का गरीब जीता है, किसान जीता है! ये बिहार की आकांक्षाओं की जीत है, बिहार के गौरव की जीत है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि मैं बिहार के अपने भाइयों और बहनों से कहूंगा, आपने एक बार फिर सिद्ध किया है कि बिहार क्यों लोकतंत्र की ज़मीन कहा जाता है। आपने फिर सिद्ध किया है कि वाकई, बिहारवासी पारखी भी हैं और जागरूक भी।

प्रधानमंत्री ने कहा कि हम भाजपा के सभी कार्यकर्ता, नीतीशजी के नेतृत्व में राजग के कार्यकर्ता, हर बिहारवासी के साथ, इस संकल्प को सिद्ध करने में कोई कसर बाकी नहीं रखेंगे।

प्रधानमंत्री ने कहा कि 21वीं सदी का भारत, एक नए मिजाज का भारत है। न हमें आपदाएं रोक सकती हैं और न ही बड़ी-बड़ी चुनौतियां। मैं एक नए भारत का उदय देख रहा हूं। एक ऐसा भारत, जो आत्मविश्वास से भरा हुआ है, जो अपने सामर्थ्य को पहचानता है, जो अपने लक्ष्यों के प्रति सचेत है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि दुर्भाग्य से कश्मीर से कन्याकुमारी तक परिवारवादी पार्टियों का जाल लोकतंत्र के लिए खतरा बनता जा रहा है। यह देश का युवा भली-भांति जानता है। परिवारों की पार्टियां या परिवारवादी पार्टियां, लोकतंत्र के लिए सबसे बड़ा खतरा हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि ऐसे में भारतीय जनता पार्टी का दायित्व और बढ़ जाता है। हमें अपनी पार्टी में भीतर के लोकतंत्र को मजबूत बनाएं रखना है। हमें अपनी पार्टी को जीवंत लोकतंत्र का जीता-जागता उदाहरण बनाना है। पार्टी हर कार्यकर्ता और हर नागरिक के लिए अवसरों का एक बेहतरीन मंच बने।

प्रधानमंत्री ने कहा कि देश के युवाओं से मेरा आह्वान है, वो आगे आएं और भाजपा के माध्यम से देश की सेवा में जुट जाएं। अपने सपनों को साकार करने के लिए, अपने संकल्पों को सिद्ध करने के लिए, कमल को हाथ में लेकर चल पड़ें।

प्रधानमंत्री ने कहा कि जो लोग लोकतांत्रिक तरीकों से हमारा मुकाबला नहीं कर पा रहे हैं, हमें चुनौती नहीं दे पा रहे हैं, ऐसे कुछ लोगों ने भाजपा के कार्यकर्ताओं की हत्या करने का रास्ता अपनाया है। देश के कुछ हिस्सों में उनको लगता है कि भाजपा के कार्यकर्ताओं को मौत के घाट उतार कर वे अपने मंसूबे पूरे कर लेंगे। मैं उन सभी को आग्रह पूर्वक समझाने का प्रयास भी करता हूं। मुझे चेतावनी देने की जरूरत नहीं है, वो काम जनता-जर्नादन करेगी।

प्रधानमंत्री ने कहा कि चुनाव आते हैं, जाते हैं। जय-पराजय का खेल होता रहा है। कभी ये बैठैगा, कभी वो बैठेगा… लेकिन ये मौत का खेल लोकतंत्र में कभी नहीं चल सकता है। हम लोकतंत्र को समर्पित हैं। देश ने हम पर जो भरोसा रखा है, उसे पूर्ण करने के लिए हम प्रतिबद्ध हैं। हमारे इरादों पर कोई शक नहीं कर सकता। हमारे प्रयासों के प्रति कभी कोई निराश नहीं होता है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि इन चुनाव परिणामों में भाजपा और राजग को अपार जनसमर्थन मिला है। इसके लिए भाजपा, राजग के कार्यकर्ता भाइयों-बहनों को बहुत-बहुत बधाई। ये चुनावी नतीजे भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डाजी की कुशलता और प्रभावी रणनीति का भी परिणाम हैं। नड्डाजी आगे बढ़ो, हम आपके साथ हैं।

इसके बाद प्रधानमंत्री ने त्योहारी सीजन में वोकल फॉर लोकल को अपनाने और कोरोना को लेकर सावधानी बरतने का आह्वान किया।