विस्फोटक लदी एसयूवी मामले में बड़ी कार्रवाई, पुलिस अधिकारी सचिन वाजे गिरफ्तार

प्रतीकात्मक चित्र। फोटो स्रोत: PixaBay
प्रतीकात्मक चित्र। फोटो स्रोत: PixaBay

मुंबई/दक्षिण भारत। उद्योगपति मुकेश अंबानी के आवास के पास विस्फोटकों से लदी एसयूवी बरामद होने के मामले में नया खुलासा हुआ है। इस संबंध में बड़ी कार्रवाई करते हुए राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने मुंबई पुलिस के अधिकारी सचिन वाजे को गिरफ्तार कर लिया है।

इससे पहले एनआईए ने वाजे से 12 घंटे से ज्यादा समय तक पूछताछ की। फिर शनिवार रात को गिरफ्तारी हुई। एजेंसी के प्रवक्ता के अनुसार, ‘सचिन वाजे को रात 11 बजकर 50 मिनट पर एनआईए मामला आरसी/1/2021/एनआईए/एमयूएम में गिरफ्तार कर लिया गया।’ एक रिपोर्ट के अनुसार, सचिन वाजे से पूछताछ के दौरान शिवसेना के एक नेता का नाम भी आया है। इस नेता और वाजे की काफी घनिष्ठता बताई जा रही है।

वाजे को एनआईए के दफ्तर में बयान दर्ज कराने के लिए बुलाया गया ​था, जहां वे सुबह करीब 11.30 बजे पहुंचे। एनआईए के अनुसार, वाजे की गिरफ्तारी विस्फोटकों से भरे वाहन को खड़ा करने और लिप्त रहने के संबंध में हुई है।

बता दें​ कि उद्योगपति मुकेश अंबानी के आवास के पास 25 फरवरी को जिलेटिन की छड़ें रखी एसयूवी मिली थी। इसमें एक पत्र भी था जिसमें अंबानी परिवार को धमकी दी गई थी।

इसके बाद पाया गया कि यह वाहन मनसुख हिरेन का है। ठाणे निवासी यह शख्स 5 मार्च को मृत पाया गया था। इसको लेकर वाजे पर सवाल उठे। हिरेन की पत्नी ने अपने पति की मौत को संदिग्ध बताते हुए वाजे पर गंभीर आरोप लगाए थे, जिसके बाद उन्हें मुंबई अपराध शाखा से हटाया गया था।

जब वाजे के बयान दर्ज किए जा रहे थे, उसी समय शनिवार को एनआईए दफ्तर में अपराध शाखा के एसीपी नितिन अलकनुरे और एटीएस एसीपी श्रीपद काले भी आए थे। उन्हें एसयूवी और हिरेन की मृत्यु मामले में की गई जांच की जानकारी देने के लिए बुलाया गया था।