ईवीएम एवं वीवीपैट मशीन
ईवीएम एवं वीवीपैट मशीन

पुणे/भाषा। महाराष्ट्र में सातारा लोकसभा उपचुनाव के दौरान ‘खराब’ ईवीएम से दूसरे प्रत्याशी को वोट जाने की अफवाह फैलाने के आरोप में राकांपा के ‘पोलिंग एजेंट’ के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है।

राकांपा के पोलिंग एजेंट ने कथित रूप से अफवाह फैलाई थी कि ‘खराब’ ईवीएम की वजह से उनकी पार्टी के उम्मीदवार को डाला गया वोट अपने आप भाजपा के प्रत्याशी को जा रहा है।

पुलिस ने बुधवार को बताया कि पोलिंग एजेंट की पहचान दीपक रघुनाथ पवार के तौर पर हुई है। वह सातारा जिले के नवलेवाडी गांव का रहने वाला है।

ग्रामीणों ने दावा किया था कि राकांपा के उम्मीदवार श्रीनिवास पाटिल को दिया गया वोट भाजपा प्रत्याशी उदयनराजे भोसले के ‘खाते’ में जा रहा है।

चुनाव अधिकारियों ने इस दावे का खंडन किया। कोरेगांव विधानसभा क्षेत्र की रिटर्निंग अधिकारी किरण नलावडे ने कहा कि इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन को बदल दिया गया था। इसी विधानसभा क्षेत्र में नवलेवाडी स्थित है।

उन्होंने कहा कि मशीन को बदलने का संबंध किसी और को वोट जाने के दावे से नहीं है। मतदान केंद्र के पीठासीन अधिकारी और सहायक प्रशासनिक अधिकारी जीजी गायकवाड ने पवार के खिलाफ पुसेगांव के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है।

पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि पवार के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 505 (1) (बी) के तहत गैर संज्ञेय अपराध दर्ज किया गया है। सातारा लोकसभा सीट पर 21 अक्टूबर को उपचुनाव हुआ था। 24 अक्टूबर को नतीजे आएंगे।