राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत
राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत

जयपुर/भाषा। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कांग्रेस के बागी नेता सचिन पायलट का नाम लिए बिना बुधवार को दावा किया कि वह सीधे तौर पर भाजपा के साथ विधायकों की खरीद-फरोख्त में शामिल थे। उन्होंने कहा कि उनके पास इस बात के प्रमाण हैं कि खरीद- फरोख्त की कोशिश हुई है।

गहलोत ने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘सफाई कौन दे रहे थे… सफाई वही नेता दे रहे थे जो खुद षड्यंत्र में शामिल थे…षड्यंत्र का हिस्सा थे। हमारे यहां पर उपमुख्यमंत्री हो, पीसीसी अध्यक्ष हों वह खुद ही अगर डील करें… वे सफाई दे रहे हैं कि हमारे यहां कोई हॉर्स ट्रेडिंग नहीं हो रही थी… अरे तुम तो खुद षड्यंत्र में शामिल थे… तुम क्या सफाई दे रहे हो, ऐसी स्थिति में देश चल रहा है।’

उल्लेखनीय है कि 19 जून को राज्यसभा की तीन सीटों के लिए चुनाव से पहले विधायकों को कथित तौर पर प्रलोभन दिए जाने को लेकर कांग्रेस और भाजपा में काफी बयानबाजी हुई थी। मुख्यमंत्री गहलोत ने आरोप लगाया था कि भाजपा कुछ विधायकों को प्रलोभन दे रही है।

गहलोत ने राष्ट्रीय मीडिया पर भी निशाना साधते हुए कहा कि वह भी उन लोगों का समर्थन कर रहा है जो लोग लोकतंत्र की हत्या और विधायकों की खरीद-फरोख्त (हॉर्स ट्रेडिंग) में शामिल हैं।