कांग्रेस वोट के लिए कुछ भी कर सकती है, किसी का भी साथ ले सकती है, धोखा दे सकती है: मोदी

भाजपा की जनसभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी। फोटो स्रोत: भाजपा ट्विटर अकाउंट।
भाजपा की जनसभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी। फोटो स्रोत: भाजपा ट्विटर अकाउंट।

बीहपुरिया/दक्षिण भारत। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को असम के बीहपुरिया में भाजपा की जनसभा को संबोधित करते हुए कांग्रेस पर जोरदार हमला बोला। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के लंबे कालखंड में जिन सत्रों, नामघरों को अवैध कब्जाधारियों के हवाले किया गया था, उनको आज मुक्त किया गया। यह हम सभी के लिए कितने कष्ट का कारण था कि ‘बताद्रवा थान’ तक को इन्होंने नहीं छोड़ा था। इन पवित्र स्थानों की सुरक्षा के लिए कांग्रेस ने कुछ नहीं किया।

प्रधानमंत्री ने कहा कि राजग सरकार की प्रतिबद्धता है कि बताद्रवा थान में एक बड़ा संस्थान बने। श्रीश्री माधवदेव कलाक्षेत्र के लिए भी काम किया जा रहा है। श्री माधवदेव यूनिवर्सिटी के लिए काम प्रगति पर है। शिवसागर को देश की पांच महान धरोहरों में शामिल करने के लिए भी कदम उठाए गए हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि कोरोना की मुश्किल परिस्थिति को जिस प्रकार यहां की सरकार ने संभाला है, भाजपा कार्यकर्ताओं ने जिस सेवाभाव से काम किया है, जिस प्रकार गरीब से गरीब की सहायता की है, ये संस्कार श्रीमंत शंकरदेव की संत परंपरा से ही मिलते हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि मैं आपको जगाने आया हूं। कांग्रेस का हाथ आज एक ऐसे लोगों के साथ है, जिसका आधार है असम की पहचान को तबाह करना। क्या आप यह होने देंगे? अपनी संस्कृति-परंपरा को नष्ट होने देंगे? जो दल घुसपैठ पर ही फला-फूला हो, आज उसके वोटबैंक पर कांग्रेस असम की सत्ता हथियाना चाहती है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि जो दल असम के मूल निवासियों के साथ भेदभाव का प्रतीक रहा हो, कांग्रेस आज उसके हाथ में असम को सौंपने की बात कर रही है। कांग्रेस वोट के लिए कुछ भी कर सकती है, किसी का भी साथ ले सकती है, किसी को भी धोखा दे सकती है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि यह कांग्रेस का महाजोत नहीं, महाझूठ है। ऐसा महाझूठ जिसका न विचार है, न संस्कार है। जिसके पास न नेता है, न नीति है। जो सिर्फ और सिर्फ घुसपैठ की, लूट की गारंटी देता है। ऐसा महाझूठ जो हमारे सत्रों-नामघरों-अभयारण्यों में अवैध कब्जे की गारंटी देता है। जो अवैध शिकार की और भ्रष्टाचार की गारंटी दे सकता है। यह एक ऐसा महाझूठ है जो अपनी सत्ता के लिए असम के गौरव को, असम की चाय तक को पूरी दुनिया में बदनाम कर सकता है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि दशकों तक कांग्रेस ने बागान में काम करने वाले साथियों के लिए कुछ नहीं किया। 15 साल के शासन में ये लोग चाय बागान के श्रमिकों की मजदूरी को 100 रुपए के आसपास तक ही ला पाए। कांग्रेस की यह सच्चाई, असम का हर चाय बागान का श्रमिक जानता है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि राजग की सरकार ने सिर्फ पांच साल में चाय बागान श्रमिकों की मज़दूरी को बढ़ाकर दोगुना तक पहुंचाया है। अब वही कांग्रेस बड़े-बड़े झूठ बोल रही है, श्रमिक भाई-बहनों में भ्रम फैला रही है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि मैं आपको विश्वास दिलाता हूं कि यहां दोबारा राजग सरकार बनते ही चाय बागान में काम करने वालों के लिए जो फैसले हमने लिए हैं, वो और तेजी से लागू किए जाएंगे।

प्रधानमंत्री ने कहा कि भाजपा की-राजग की, डबल इंजन की सरकार मूल सुविधाओं से लेकर विकास की आकांक्षाओं तक असम को आगे बढ़ाने में जुटी है। आज असम के हर हिस्से में रहने वाले गरीब परिवारों तक को एलपीजी गैस कनेक्शन मिल चुके हैं। उनको धुएं से मुक्ति मिली है।