बिहार में विधानसभा चुनाव की मतगणना जारी है।
बिहार में विधानसभा चुनाव की मतगणना जारी है।

पटना/भाषा। बिहार विधानसभा चुनाव के लिए मंगलवार को मतों की गिनती सुबह आठ बजे शुरू हो गई। बिहार चुनाव के लिये मतगणना 38 जिलों के 55 मतगणना केंद्रों पर हो रही है। इस चुनाव के परिणाम राज्य में नीतीश कुमार सरकार का भविष्य तय करेंगे। नीतीश कुमार पिछले 15 वर्ष से बिहार के मुख्यमंत्री हैं।

बिहार चुनाव के लिये अधिकतर एक्जिट पोल में राजद नेता तेजस्वी यादव के नेतृत्व में पांच दलों के महागठबंधन को जीत हासिल होने का पूर्वानुमान व्यक्ति किया गया है।

तेजस्वी यादव (31) महागठबंधन के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार हैं और इस चुनाव में उनका मुकाबला वर्तमान मुख्यमंत्री तथा जदयू नेता नीतीश कुमार से था। चुनाव आयोग ने मतगणना सुचारू रूप से कराने के लिये पुख्ता प्रबंध किए हैं और इस बात का ध्यान रखा जा रहा है कि मतों की गिनती की प्रक्रिया में कोई बाधा नहीं आए।

मुख्य निर्वाचन अधिकारी एच आर श्रीनिवास ने बताया कि मतदान होने के बाद जिन कक्षों (स्ट्रांग रूम) में ईवीएम मशीनों को रखा गया है, वहां पर केंद्रीय अर्द्ध सैनिक बलों को तैनात किया गया है।

बिहार में 243 सदस्यीय विधानसभा के लिये तीन चरणों में मतदान हुआ। इस चुनाव में वैशाली जिले की राघोपुर सीट पर लोगों की निगाहें लगी हुई हैं जहां से तेजस्वी यादव मैदान में हैं। नीतीश कुमार बिहार विधान परिषद के सदस्य हैं और उन्होंने चुनाव नहीं लड़ा है।

वहीं, राघोपुर सीट पर पूर्व में लालू प्रसाद और राबड़ी देवी प्रतिनिधित्व कर चुके हैं। तेजस्वी के बड़े भाई तेज प्रताप यादव ने समस्तीपुर जिले की हसनपुर सीट से चुनाव लड़ा है।

इसके अलावा जिन प्रमुख नेताओं के चुनावी परिणाम पर लोगों की नजर रहेगी उनमें पटना साहिब से नंद किशोर यादव, पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी, खेल से राजनीति में आई श्रेयसी सिंह और प्लूरल्स पार्टी की नेता पुष्पम प्रिया चौधरी आदि शामिल हैं।

गौरतलब है कि पिछले वर्ष लोकसभा चुनाव में राजद के एक भी सीट नहीं जीतने के बाद तेजस्वी यादव के नेतृत्व पर सवाल उठा था।