आईएसआई
आईएसआई

नई दिल्ली/भाषा। पूर्वी दिल्ली के शकरपुर इलाके में सोमवार को एक मुठभेड़ के बाद पांच संदिग्ध आतंकवादियों को गिरफ्तार कर लिया गया जिनमें दो कथित रूप से पंजाब में शौर्य चक्र विजेता बलविंदर सिंह की हत्या में शामिल थे। अधिकारियों ने यह जानकारी दी।

उन्होंने बताया कि इससे पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई की कश्मीर में आतंकी संगठनों को खालिस्तान के आतंकियों के साथ जोड़ने की कोशिश का पता चला है। पुलिस के अनुसार इनमें से तीन लोग कश्मीर से हैं, वहीं बाकी दो पंजाब के हैं।

उन्होंने बताया कि पंजाब के रहने वाले दोनों लोग बलविंदर सिंह की हत्या में शामिल थे। आतंकवाद से मुकाबले के लिए शौर्य चक्र से सम्मानित सिंह की अक्टूबर में गोली मारकर हत्या कर दी गयी थी।

पुलिस उपायुक्त (विशेष इकाई) प्रमोद सिंह कुशवाहा ने कहा, ‘हमारी टीम को सोमवार सुबह विशेष सूचना प्राप्त हुई कि पंजाब के दो अपराधियों को तीन कश्मीरियों से पैसे मिलने हैं। गुप्त सूचना पर दिल्ली के लक्ष्मी नगर इलाके में मामूली गोलीबारी के बाद पांच लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया।’

उन्होंने बताया कि इन लोगों के पास से तीन पिस्तौल, दो किलोग्राम हेरोइन और एक लाख रुपए नकद मिले हैं। दो कार भी जब्त कर ली गई हैं जिनमें ये यात्रा कर रहे थे।

कुशवाहा ने बताया कि प्रारंभिक पड़ताल में सामने आया है कि कश्मीर में सक्रिय आतंकवादी संगठनों को पाकिस्तान की आईएसआई द्वारा खालिस्तान समर्थक आतंकियों से जोड़ने की कोशिश की जा रही थी।

अधिकारी के अनुसार, ‘वे मादक पदार्थ बेच रहे थे और इस पैसे का इस्तेमाल पंजाब में आतंकवाद के वित्तपोषण में होता था।’ आगे जांच जारी है।