प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

नई दिल्ली/दक्षिण भारत। रविवार को नोटबंदी के चार साल पूरे हो गए। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 8 नवंबर, 2016 को रात आठ बजे यह ऐतिहासिक घोषणा की थी। मोदी ने इस अवसर पर कहा कि नोटबंदी के बाद से देश में डिजिटल ट्रांजेक्शन को बढ़ावा मिल रहा है।

प्रधानमंत्री ने अपने ट्विटर अकाउंट पर ग्राफिक्स साझा करते हुए बताया कि अक्टूबर 2020 के दौरान देश में 207.16 करोड़ डिजिटल ट्रांजेक्शन हुए। एनपीसीआई के अनुसार, अब तक 3.86 लाख करोड़ रुपए के यूपीआई ट्रांजेक्शन हो चुके हैं। यूपीआई प्लेटफॉर्म से 189 बैंक जुड़े हुए हैं।

प्रधनमंत्री ने बताया कि नोटबंदी ने काले धन को कम करने, कर अनुपालन व औपचारिकता वृद्धि एवं पारदर्शिता को बढ़ावा देने में मदद की है। ये नतीजे राष्ट्रीय प्रगति के लिए बहुत लाभदायक रहे हैं।

प्रधानमंत्री द्वारा साझा किए गए ग्राफिक्स में दर्शाया गया है कि नोटबंदी से कर जमा होने में बढ़ोतरी हुई। इसके अलावा कर एवं जीडीपी अनुपात बढ़ा, भारत अपेक्षाकृत कम नकदी आधारित अर्थव्यवस्था बना और राष्ट्रीय सुरक्षा को मजबूती मिली।

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चार साल पहले नोटबंदी की घोषणा करते हुए उस समय प्रचलित 500 और 1,000 रुपए के नोट बंद कर दिए थे। रविवार को यह मुद्दा दिनभर सोशल मीडिया पर चर्चा में रहा।