आपदा राहत: शाह नीत उच्चस्तरीय समिति ने पांच राज्यों के लिए 3,113 करोड़ रुपए की राशि को दी मंजूरी

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह। फोटो स्रोत: फेसबुक पेज।
केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह। फोटो स्रोत: फेसबुक पेज।

नई दिल्ली/भाषा। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की अध्यक्षता वाली एक उच्च स्तरीय समिति ने 2020 में प्राकृतिक आपदाओं और कीट हमलों से प्रभावित हुए पांच राज्यों के लिए करीब 3,113 करोड़ रुपए की राशि शनिवार को मंजूर की।

गृह मंत्रालय ने एक बयान में बताया कि जिन राज्यों एवं केंद्रशासित प्रदेशों को राष्ट्रीय आपदा जोखिम प्रबंधन निधि (एनडीआरएमएफ) से अतिरिक्त केंद्रीय मदद मुहैया कराई जाएगी, उनमें आंध्र प्रदेश, बिहार, तमिलनाडु, पुड्डुचेरी और मध्य प्रदेश शामिल हैं।

समिति ने 2020 में बाढ़, चक्रवातों (निवार एवं बुरेवी) और कीट हमलों से प्रभावित हुए पांच राज्यों एवं केंद्रशासित प्रदेशों को केंद्र की ओर से अतिरिक्त मदद मुहैया कराए जाने को मंजूरी दी है।

बयान में कहा गया कि दक्षिण-पश्चिम मानसून के दौरान बाढ़ से प्रभावित हुए बिहार को 1,255.27 करोड़ रुपए और आंध्र प्रदेश को 280.78 करोड़ रुपए दिए जाएंगे। तमिलनाडु को चक्रवात ‘निवार’ से प्रभावित होने के कारण 63.14 करोड़ रुपए और ‘बुरेवी’ से प्रभावित होने के कारण 223.77 करोड़ रुपए मुहैया कराए जाएंगे।

इस तरह तमिलनाडु को कुल 286.91 करोड़ रुपए दिए जाएंगे। पुड्डुचेरी को ‘निवार’ से प्रभावित होने के कारण 9.91 करोड़ रुपए और मध्यप्रदेश को खरीफ के मौसम में हुए कीट हमले के कारण 1,280.18 करोड़ रुपए मुहैया कराए जाएंगे।

इसमें कहा गया कि केंद्र सरकार ने इन आपदाओं के बाद प्रभावित राज्य सरकारों से ज्ञापन पत्र मिलने का इंतजार किए बिना तत्काल अंतर-मंत्रालयी केंद्रीय टीम नियुक्त की थीं।

गृह मंत्री ने अतिरिक्त केंद्रीय सहायता को मंजूरी देते समय कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र सरकार ने इन प्राकृतिक आपदाओं का सामना करने वाले आंध्र प्रदेश, बिहार, तमिलनाडु, पुड्डुचेरी और मध्य प्रदेश के लोगों की मदद करने का संकल्प लिया है।

बयान में कहा गया कि इसके अलावा केंद्र सरकार ने वित्त वर्ष 2020-21 के दौरान 28 राज्यों के लिए राज्य आपदा जोखिम प्रबंधन निधि से 19,036.43 करोड़ रुपए और एनडीआरएमएफ से 11 राज्यों के लिए 4,409.71 करोड़ रुपए जारी किए हैं।