वीआईपी प्रमुख विकास सहनी
वीआईपी प्रमुख विकास सहनी

पटना/दक्षिण भारत। बिहार चुनाव से पहले महागठबंधन छोड़कर राजग में शामिल हुए विकासशील इंसान पार्टी (वीआईपी) के प्रमुख मुकेश सहनी ने सियासत में कदम रखने से पहले ज़िंदगी में उतार-चढ़ाव के कई दौर देखे हैं। चुनाव लड़ने के लिए भाजपा कोटे से विधानसभा की 11 और विधान परिषद की एक सीट हासिल करने वाले मुकेश सहनी का बॉलीवुड से भी गहरा रिश्ता रहा है।

दरभंगा के सुपौल बाजार से ताल्लुक रखने वाले मुकेश सहनी के बारे में कम लोगों को ही पता होगा कि वे एक कुशल सेट डिजाइनर रहे हैं और उनकी कंपनी ने फिल्म ‘देवदास’ का सेट बनाया था, जिसकी वजह से उन्हें सिने जगत में खूब शोहरत मिली।

काम ढूंढ़ा और बन गए सेल्समैन
हालांकि मुकेश के लिए शुरुआत बहुत आसान नहीं रही। परिवार की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं होने के कारण वे 19 साल की उम्र में ही मुंबई आ गए थे। यहां काम ढूंढ़ने पर उन्हें सेल्समैन की नौकरी मिली। इस दौरान चीजें बेचने का हुनर सीखते हुए उन्होंने बतौर सेट डिजाइनर बॉलीवुड में एंट्री की।

याद है ‘देवदास’!
मुकेश ने शाहरुख खान की ‘देवदास’ के अलावा सलमान खान की ‘बजरंगी भाईजान’ के लिए भी सेट डिजाइन किया था। उनकी कंपनी मुकेश सिनेवर्ल्ड बॉलीवुड में खासा नाम रखती है। मुकेश खुद को ‘सन ऑफ मल्लाह’ कहलाना पसंद करते हैं। ​सिने जगत के बाद उन्होंने सियासत का रुख किया और 2018 में पार्टी बनाई।

कहां पार्टी मजबूत?
एक रिपोर्ट के अनुसार, अगर आंकड़ों की बात करें तो बिहार में मल्लाह समुदाय की आबादी करीब 6 प्रतिशत है। वीआईपी का राजग के साथ गठबंधन होने पर उसे परंपरागत वोटों के साथ इस समुदाय के वोट मिल सकते हैं, जिससे यह कई सीटों पर मजबूत होने के अलावा विपक्ष के समीकरण बिगाड़ सकती है।

कमाल करेगी वीआईपी?
रिपोर्ट के मुताबिक, करीब 12 करोड़ की संपत्ति के मालिक मुकेश सहनी का मुंबई में भी घर है। उनके परिवार में पत्नी कविता और दो बच्चे रणवीर व मुस्कान हैं। शुरुआती जीवन संघर्ष भरा होने के कारण वे शिक्षा की ओर ज्यादा ध्यान नहीं दे पाए और आठवीं पास हैं। इस बार चुनावों में उनकी पार्टी क्या कमाल दिखाएगी, यह बिहार की जनता ही तय करेगी।