सर्वकालिक उच्च स्तर पर पहुंची बिजली की मांग अर्थव्यवस्था के लिए कैसे संकेत दे रही है?

प्रतीकात्मक चित्र। फोटो स्रोत: PixaBay
प्रतीकात्मक चित्र। फोटो स्रोत: PixaBay

नई दिल्ली/भाषा। बिजली की मांग शुक्रवार को 187.3 गीगावाट के सर्वकालिक उच्चस्तर पर पहुंच गई। इससे अर्थव्यवस्था की बढ़ती क्षमता का पता चलता है। बिजली मंत्री आरके सिंह ने यह कहा।

सिंह ने एक ट्वीट किया, ‘बिजली की मांग का एक नया रिकॉर्ड बना है। इसने 20 जनवरी 2021 के 1,85,820 मेगावाट के रिकॉर्ड को तोड़ दिया है। आज सुबह 10 बजकर 28 मिनट पर बिजली की मांग 1,87,300 मेगावाट रही। इससे पुनः अर्थव्यवस्था की बढ़ती ताकत का पता चलता है।’

पिछले साल 30 दिसंबर को बिजी की मांग 182.89 गीगावाट रही थी, जो तब तक का सबसे उच्च स्तर था। बिजली मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, पिछले साल जनवरी में बिजली के उच्चतम मांग 170.97 गीगावाट थी।

सरकार ने कोविड-19 के प्रसार को रोकने के लिये 25 मार्च 2020 को देशव्यापी लॉकडाउन लगाया था। इसके चलते अप्रैल से आर्थिक गतिविधियां बाधित होने के कारण बिजली की मांग में गिरावट शुरू हो गई।

अप्रैल से अगस्त 2020 तक लगातार पांच महीने बिजली की मांग महामारी से प्रभावित रही। सितंबर से इसमें वृद्धि शुरू हुई।