दुल्हन के बारे में झूठी बात सुन बारात लेकर लौटा दूल्हा, फिर आया ट्वीस्ट

377

महोबा। दुल्हन के शरीर पर सफेद दाग की बात सुन दूल्हे ने शादी से इनकार कर दिया और बारात लेकर वापस लौटने लगा। ल़डकी पक्ष ने तुरंत इसकी शकिायत पुलसि में की। मौके पर पहुंची पुलसि ने दूल्हे को थाने ले आई। दोनों पक्षों की महलिाओं को ल़डकी के साथ एक कमरे में भेजा गया, लेकिन उसके शरीर पर कोई सफेद दाग नहीं मिला। इसके बाद थाने के मंदिर में दोनों की शादी करवा दी गई। महोबा जिले के रहने वाले कालीचरण राजपूत की बेटी तीजा की शादी पास के गांव अकौनी के रहने वाले जय हिन्द से तय हुई। ११ मई को बारात पहुंची। बरातियों के नाश्ता करने के बाद किसी महलिा ने दूल्हे पक्ष से कह दिया कि दुल्हन के शरीर पर तो सफेद दाग है। इसके बाद दूल्हे ने बारात लौटाने का फैसला कर लिया। इसकी जानकारी मिलते ही ल़डकी के पिता ने पुलिस को फोन कर दिया।दूल्हा-दुल्हन पक्ष को पुलिस थाने लेकर गई। पुलिस ने दुल्हन को दोनों पक्षों की महिलाओं के साथ एक कमरे में भेजा। ल़डकी के शरीर पर किसी को एक दाग भी नजर नहीं आया। महिलाओं ने जब दूल्हे को ये सच्चाई बताई तो उसको अपनी गलती का अहसास हो गया। दूल्हे ने कहा- मुझसे बहुत ब़डा अपराध हो गया। मुझे किसी के कहने पर नहीं जाना चाहिए था। मैं अपनी गलती के लिए शर्मिंदा हूं और अब मैं इसी ल़डकी से शादी करना चाहता हूं। इसके बाद पुलिस ने दोनों पक्षों की रजामंदी से थाने के मंदिर में ल़डका-ल़डकी की शादी करवा दी।एसओ रीता सिंह ने बताया, दूल्हे पक्ष ने दुल्हन पक्ष की कोई बात सुने बिना बारात लौटाने का फैसला ले लिया था, जो पूरी तरह से गलत था। फिलहाल दोनों की शादी करवाकर विदाई करा दी गई है। अगर ल़डका पक्ष नहीं मानता तो उनपर केस किया जाता।