भीख मांगने वाली महिला ने शालिग्राम मंदिर में दिया एक लाख रुपए का दान

फोटो स्रोत: PixaBay
फोटो स्रोत: PixaBay

ब्रह्मवार/वार्ता। हर दिन सुबह से शाम तक भीख मांगने वाली एक 80 वर्षीया महिला अश्वतम्मा ने कर्नाटक के शालिग्राम स्थित भगवान गुरुनरसिम्हा मंदिर को एक लाख रुपए की राशि दान दी है। अश्वतम्मा ने मंदिर के पुजारियों से आग्रह किया है कि वे दान में दिए गए उसके पैसे से लोगों को भोजन उपलब्ध कराएं।

उन्होंने वैश्विक महामारी कोरोना वायरस को समाप्त करने की भगवान से प्रार्थना करते हुए अपने पास एकत्र पैसों का दान किया है। इस अवसर पर मंदिर की ओर से प्रसाद भेंट कर उन्हें सम्मानित किया गया। इस दौरान मंदिर के पुजारी वेदमूर्ति जनार्दन अडिगा, प्रबंधक के नागराज हांडे तथा अन्य लोग भी मौजूद थे।

दिलचस्प तथ्य यह भी है कि अश्वतम्मा भिक्षाटन कर जितने पैसे भी एकत्र करती हैं, वे सभी कल्याण गतिविधियों पर खर्च कर देती हैं या दान में दे देती हैं।

इससे पहले उन्होंने पोलाली राजराजेश्वरी मंदिर और कांचागुडा मंदिर समेत विभिन्न मंदिरों में भी अपने पैसे दान किए हैं। वे हर साल बहुचर्चित सबरीमला मंदिर तीर्थाटन करने जाती हैं।