सफर में लगता था ज्यादा समय, किसान ने डेयरी कारोबार के लिए खरीद लिया हेलीकॉप्टर!

प्रतीकात्मक चित्र। स्रोत: PixaBay
प्रतीकात्मक चित्र। स्रोत: PixaBay

भिवंडी/दक्षिण भारत। महाराष्ट्र के भिवंडी निवासी एक किसान को डेयरी से संबंधित व्यसाय के लिए अक्सर देश के अलग-अलग राज्यों का सफर करना पड़ता था। इन सबमें काफी समय लग जाता था। आखिरकार किसान ने एक हेलीकॉप्टर खरीद लिया! जी हां, यह कोई फिल्मी कहानी नहीं बल्कि हकीकत है।

भिवंडी के जनार्दन भोईर पेशे से किसान हैं। साथ ही दूध डेयरी का व्यवसाय चलाते हैं। जब व्यवसाय कई राज्यों तक फैल गया तो अक्सर वहां आना-जाना लगा रहता। इसमें जनार्दन का काफी समय चला जाता तो काम प्रभावित होने लगा। एक दिन उन्होंने तय किया कि सफर को आसान बनाने और समय की बचत के लिए कुछ रुपया खर्च किया जाए। ज्यादा नहीं, सिर्फ 30 करोड़! और जनार्दन ले आए एक हेलीकॉप्टर।

हो सकता है कि ये पंक्तियां पढ़कर किसी को लगे कि यह हेलीकॉप्टर कहीं वो तो नहीं जो मेले-ठेले में मिल जाता है, प्लास्टिक वाला, जिसे चलाओ तो रंग-बिरंगी रोशनी होती है! तो बता दें कि यह हेलीकॉप्टर असली है, जिसके लिए जनार्दन ने भारतीय मुद्रा में 30 करोड़ रुपए खर्चे हैं।

अब हेलीकॉप्टर आ गया तो गांवभर में हल्ला मच गया। हर कोई इसे करीब से देखना चाहता था। यहां जनार्दन ने बड़ा दिल दिखाया और ग्राम पंचायत के निर्वाचित सदस्यों को सैर कराई। बताया गया कि जनार्दन खेती-किसानी और दूध का कारोबार करने के अलावा रियल एस्टेट में भी हाथ आजमा चुके हैं। एक बार किसी दोस्त ने सलाह दी कि आने-जाने में बहुत वक्त लगता है, सो हेलीकॉप्टर खरीद लो। जनार्दन को बात जंच गई और खरीद लिया।

इसके लिए अपनी जमीन पर हैलीपैड बनवाया। पायलट रूम, टेक्नीशियन रूम वगैरह तैयार कराए जा रहे हैं। बहुत जल्द जर्नादन कारोबार का हिसाब-किताब लेकर हेलीकॉप्टर में फर्राटे से उड़ान भरेंगे, चाहे कोल्हापुर हो कानपुर, जलगांव हो या जयपुर, बीकानेर हो या बरेली… सुना है बरेली में कोई झुमका गिरा था!