लक्षद्वीप
लक्षद्वीप

नई दिल्ली/भाषा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को देश के सभी छोटे छोटे द्वीपों में विकास कार्य तेज करने पर जोर देते हुए कहा कि अगले तीन साल के भीतर लक्षद्वीप को भी तेज गति इंटरनेट की सुविधा उपलब्ध कराने के लिए ऑप्टिकल फाइबर केबल से जोड़ दिया जाएगा।

मोदी ने 74वें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर राष्ट्र के नाम अपने संबोधन में कहा कि सरकार देश के चौतरफा विकास के लिए लगातार प्रयास कर रही है। उन्होंने कहा कि देश के 1,300 से ज्यादा जो द्वीप हैं, उनको विकसित करने की दिशा में कदम उठाये जा रहे हैं।

उन्होंने कहा कि पिछले सप्ताह की अंडमान निकोबार द्वीप समूह को ऑप्टिकल फाइबर केबल से जोड़ा गया है। ‘अब अंडमान निकोबार को भी चेन्नई और दिल्ली जैसी इंटरनेट की सुविधा उपलब्ध करा दी गई है।’

उन्होंने कहा कि अगले 1,000 दिन में लक्षद्वीप को भी तेज इंटरनेट की सुविधा से जोड़ने का लक्ष्य रखा गया है। इस द्वीप तक भी यह सुविधा आने वाले समय में उपलब्ध होगी।

प्रधानमंत्री ने कोरोना वायरस की चुनौतियों के बीच देश को आत्मनिर्भर बनाने का संकल्प व्यक्त करते हुये कहा, ‘हिमालय की चोटी हो या हिंद महासागर तक, लद्दाख से लेकर अरुणाचल प्रदेश तक नई सड़कों का निर्माण किया जा रहा है। देश के 1,300 से ज्यादा द्वीप हैं उनमें कुछ को विकसित करने पर हम आगे बढ़ रहे हैं। अंडमान निकोबार को भी चेन्नई, दिल्ली जैसी इंटरनेट सुविधा उपलब्ध कराई गई है और 1,000 दिन में लक्षद्वीप को भी तेज इंटरनेट से जोड़ने का लक्ष्य रखा गया है।’