अहमदाबाद। अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर यहां जीएमडीसी मैदान में लगभग तीन लाख लोगों ने योगगुरु रामदेव के नेतृत्व में योगासन करके एक विश्व रिकॉर्ड बना दिया। इस अवसर पर भाजपा के अध्यक्ष अमित शाह, गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपानी, उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल, पूर्व मुख्यमंत्री आनंदीबेन पटेल, कई अन्य नेता और आईएएस अधिकारी, उच्च न्यायालय के न्यायाधीश और अधिकारी मौजूद थे। तीसरे अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर रामदेव के नेतृत्व में यहां लाखों लोगों ने विभिन्न योगासन किए। राज्य सरकार और रामदेव के पतंजलि योगपीठ ने इस विशाल आयोजन में विभिन्न धर्मों के धार्मिक नेताओं को आमंत्रित किया था। डे़ढ घंटे के सत्र के बाद रामदेव ने दावा किया कि तीन लाख लोगों द्वारा एक ही स्थान पर योग करने से यह आयोजन गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज हो गया है। पिछला रिकॉर्ड २१ जून २०१५ को दिल्ली में बना था। तब ३५,९८५ लोगों ने राजपथ पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ योग किया था। समारोह के बाद रामदेव ने संवाददाताओं से कहा, आज का दिन मेरे लिए बहुत अहम है क्योंकि तीन लाख से ज्यादा लोगों ने एक नया विश्व रिकॉर्ड बनाने के लिए एक ही स्थान पर एक साथ योग किया। हमने उस पिछले विश्व रिकॉर्ड को ब़डे अंतर के साथ तो़ड दिया है, जो हमारे प्रधानमंत्री की मौजूदगी में बनाया गया था। उन्होंने कहा कि गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड बुक के अधिकारी भी इस अवसर पर मौजूद थे। अमित शाह ने योग करके अपने शरीर का वजन तो घटा लिया है लेकिन राजनीतिक वजन ब़ढा लिया है, जिससे कई लोगों को तनाव हो गया है। यह राजनीतिक टिप्पणी योग गुरु रामदेव ने अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर की। इस मौके पर लगभग तीन लाख लोगों ने जीएमडीसी मैदान में एकसाथ योगाभ्यास किया। दो आसनों के बीच रामदेव ने कहा, अमित भाई ने हाल के समय में काफी वजन कम किया है। वहीं दूसरी ओर, उनका राजनीतिक वजन काफी ब़ढा है। इससे कई लोगों को तनाव हुआ होगा। मैं उनसे अनुरोध करता हूं कि वे लोग अपना तनाव कम करने के लिए योग करें।