लखनऊ। समाजवादी पार्टी (सपा) के संरक्षक और पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव द्वारा आईपीएस अमिताभ ठाकुर को मोबाइल फोन से दी गई कथित धमकी के सम्बन्ध में दर्ज मामले में विवेचक पुलिस उपाधीक्षक हजरतगंज अविनाश मिश्रा ने दोनों से अपनी-अपनी आवाज के नमूने देने के लिए सहमति मांगी है। सूत्रों के अनुसार, विवेचक पुुलिस उपाधीक्षक ने मुलायम सिंह यादव और अमिताभ ठाकुर को भेजे अपने पत्र में कहा है कि अदालत ने दोनों पक्ष के आवा़ज का नमूना लेने की अनुमति दे दी है। विवेचना के सफल निस्तारण के लिए आवश्यक है कि वादी तथा प्रतिवादी की आवा़ज का नमूना प्राप्त कर वादी द्वारा उपलब्ध कराए गए रिकॉर्डिंग की आवा़ज से उसका मिलान कराया जाए। अतः वे इस सम्बन्ध में अपनी सहमति दें। उन्होंने बताया कि अमिताभ को इस पत्र की प्रति प्राप्त करा दी गई है जबकि मुलायम सिंह के आवास से पुलिस को आने को कहा गया है। इस बीच, अमिताभ ठाकुर ने बताया कि उन्हें रजिस्ट्रड डाक से विवेचनाधिकारी का पत्र मिल गया है और वह अपनी आवाज का नमूना देने को तैयार हैं। इस मामले में यादव को सहयोग करना चाहिए और अपनी आवाज का नमूना देना चाहिए। गौरतलब है कि इस मामले में मुख्य न्यायिक दण्डाधिकारी (सीजेएम) ने २० अगस्त २०१६ को पुलिस द्वारा दी गई अंतिम रिपोर्ट ख़ारिज कर यह विवेचना क्षेत्राधिकारी हजरतगंज से कराए जाने और कॉम्पैक्ट डिस्क का विधि विज्ञान प्रयोगशाला में परीक्षण कराने के आदेश दिए थे।