logo
कोरोना की चुनौती जरूर बड़ी है, लेकिन हमारा हौसला उससे भी बड़ा है: मोदी
 
कोरोना की चुनौती जरूर बड़ी है, लेकिन हमारा हौसला उससे भी बड़ा है: मोदी
राज्यों और जिलों के अधिकारियों से वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से संवाद कर रहे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी। फोटो स्रोत: भाजपा ट्विटर अकाउंट।

नई दिल्ली/दक्षिण भारत। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने टीकाकरण को कोरोना महामारी के खिलाफ लड़ाई में सशक्त माध्यम बताते हुए कहा कि सरकार बड़े पैमाने पर आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए प्रयास निरंतर जारी हैं। प्रधानमंत्री यहां राज्यों और जिलों के अधिकारियों से वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से संवाद कर रहे थे। उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि जब जिला कोरोना को हराएगा तभी देश कोरोना से जंग जीतेगा।

प्रधानमंत्री ने कहा कि हमारे देश में जितने जिले हैं, उतनी ही अलग-अलग चुनौतियां भी हैं। आप अपने जिले की चुनौतियों को अच्छे से समझते हैं। इसलिए जब आपका जिला जीतता है, तो देश जीतता है। आपका जिला कोरोना को हराता है, तो देश कोरोना को हराता है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि इस वायरस के खिलाफ हमारे हथियार क्या हैं? हमारे हथियार हैं- लोकल कन्टेनमेंट जोन, एग्रेसिव टेस्टिंग और लोगों तक सही और पूरी जानकारी। हॉस्पिटल में कितने बेड उपलब्ध हैं, कहां उपलब्ध हैं? ये जानकारी आसानी से उपलब्ध होने पर लोगों की सहूलियत बढ़ती है। इसी तरह काला बाजारी पर लगाम हो, ऐसे लोगों पर सख्त कार्रवाई हो।

प्रधानमंत्री ने कहा कि फ्रंट लाइन वर्कर्स का मनोबल ऊंचा रखकर उन्हें एकजुट करना, आपके ये प्रयास पूरे जिले को मजबूती देते हैं। हमारी जिम्मेदारी संक्रमण को रोकने से फैलने की भी है। यह तभी संभव है जब हमें संक्रमण के स्केल की सही जानकारी होगी। टेस्टिंग, ट्रैकिंग, ट्रीटमेंट और कोविड उचित व्यवहार इन सभी पर लगातार बल देते रहना जरूरी है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि कोविड के अलावा आपको अपने जिले के हर एक नागरिक की ‘ईज आफ लिविंग’ का भी ध्यान रखना है। हमें संक्रमण को भी रोकना है और दैनिक जीवन से जुड़ी ज़रूरी सप्लाई को भी बेरोकटोक चलाना है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि कोरोना की इस दूसरी लहर में अभी ग्रामीण और दुर्गम क्षेत्रों में हमें बहुत ध्यान देना है। इसमें फील्ड में बिताया आपका अनुभव और आपकी कुशलता बहुत काम आने वाली है। हमें गांव-गांव में जागरूता भी बढ़ानी और उन्हें बेहतर इलाज की सुविधाओं से भी जोड़ना है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि पीएम केयर्स के माध्यम से देश के हर जिले के अस्पतालों में ऑक्सीजन प्लांट्स लगाने पर तेजी से काम किया जा रहा है। कई अस्पतालों में ये प्लांट काम करना शुरू भी कर चुके हैं। जिन जिलों को ये प्लांट आवंटित होने वाले हैं, वहां जरूरी तैयारी पहले से पूरी हों, ताकि ये प्लांट जल्द लग सके।

प्रधानमंत्री ने कहा कि टीकाकरण कोविड से लड़ाई का एक सशक्त माध्यम है, इसलिए इससे जुड़े हर भ्रम को हमें मिलकर दूर करना है। कोरोना के टीके की सप्लाई को बहुत बड़े स्तर पर बढ़ाने के निरंतर प्रयास किए जा रहे हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि जिलों में मेडिकल के साथ ही हर चीज की सप्लाई पर्याप्त हो, यह सुनिश्चित करना भी जरूरी है। आपको अपनी जरूरतों को तेजी से रेखांकित करके, उनका प्रबंध करना है। चुनौती जरूर बड़ी है, लेकिन हमारा हौसला उससे भी बड़ा है।