logo
अमेरिका, यूके, जर्मनी … कोई नहीं टक्कर में, भारत ने सर्वाधिक टीकाकरण कर सबको पछाड़ा
 
अमेरिका, यूके, जर्मनी … कोई नहीं टक्कर में, भारत ने सर्वाधिक टीकाकरण कर सबको पछाड़ा
प्रतीकात्मक चित्र। फोटो स्रोत: PixaBay

नई दिल्ली/दक्षिण भारत। भारत कोरोना महामारी से पूरी मजबूती के साथ लड़ रहा है और सरकार के प्रयासों का असर भी दिखाई दे रहा है। वायरस के खिलाफ नागरि​कों को सुरक्षा कवच मुहैया कराने के लिए अब तक जितने टीके लगाए गए, उससे विश्व रिकॉर्ड बन गया है।

दरअसल भारत पूरी दुनिया में सर्वाधिक कोरोनारोधी टीके लगाने वाला देश बन गया है। इस मुकाबले में उसने अमेरिका समेत तमाम देशों को भी पछाड़ दिया है। केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी किए गए आंकड़े बताते हैं कि देश में अब तक कोरोना टीके की 32 करोड़ 36 लाख 63 हजार 297 खुराकें लगा दी गई हैं। यह आंकड़ा अमेरिका के 32 करोड़ 33 लाख 27 हजार 328 खुराकों से कहीं ज्यादा है।

इनसे कई गुणा आगे हम
इस सूची में जो अन्य देश शामिल हैं, वे स्वास्थ्य सुविधाओं के लिहाज से बेहतर माने जाते हैं। टीकाकरण के मामले में भारत उनसे कई गुणा आगे है। आंकड़ों के अनुसार, तीसरे स्थान पर रहा ब्रिटेन अब तक 7 करोड़ 67 लाख 74 हजार 990 टीके लगा चुका है। भारत के आंकड़े से तुलना करें तो जल्द ही हमारा देश इसके पांच गुने से आगे निकल जाएगा।

उधर, चौथे स्थान पर जर्मनी सिर्फ 7 करोड़ 14 लाख 37 हजार 514 टीके ही लगा चुका है। पांचवें और छठे स्थान पर क्रमश: फ्रांस और इटली हैं। यहां टीकाकरण का आंकड़ा 5.24 करोड़ और 4.96 करोड़ तक पहुंच पाया है।

कई चुनौतियां, फिर भी बनाया रिकॉर्ड
गौरतलब है कि टीकाकरण में जनसंख्या की बड़ी तादाद और दूर-दराज के इलाकों तक वैक्सीन पहुंचाना भी बड़ी चुनौती है। जहां अमेरिका और यूरोप के समृद्ध देशों में जनसंख्या तुलनात्मक रूप से कम और संतुलित है, वहीं भारत में सरकार पर 130 करोड़ से ज्यादा नागरिकों को टीका मुहैया कराने की जिम्मेदारी है। मौजूदा महामारी से पैदा हुए संकट के बावजूद देश ने टीकाकरण के मामले में यह रिकॉर्ड बनाया है।