कोविड-19 टीकाकरण का अगला चरण एक मार्च से होगा शुरू, सरकारी केंद्रों पर निशुल्क लगेंगे टीके

प्रतीकात्मक चित्र। फोटो स्रोत: PixaBay
प्रतीकात्मक चित्र। फोटो स्रोत: PixaBay

नई दिल्ली/भाषा। सरकार ने बुधवार को फैसला किया कि 60 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों तथा किसी दूसरी बीमारी से ग्रसित 45 वर्ष से ज्यादा उम्र के लोगों को 1 मार्च से कोरोना वायरस रोधी टीका सरकारी केंद्रों पर निशुल्क लगाया जाएगा। वहीं, निजी क्लिनिकों एवं केंद्रों पर उन्हें इसके लिए शुल्क देना पड़ेगा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में आज हुई केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक में उक्त आशय का निर्णय किया गया। बैठक के बाद सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने संवाददाताओं को बताया कि मंत्रिमंडल की बैठक में यह फैसला किया गया कि 60 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों तथा किसी दूसरी बीमारी (कोमोर्बिडिटी) से ग्रसित 45 वर्ष से ज्याद उम्र के लोगों को कोरोना वायरस रोधी टीका 1 मार्च से लगाया जाएगा।

उन्होंने बताया कि इस श्रेणी में लोगों को 10 हजार सरकारी केंद्रों पर टीका लगाया जाएगा और जो लोग सरकारी केंद्रों पर टीका लगवाने आएंगे, उन्हें निशुल्क टीका लगाया जाएगा। मंत्री ने कहा कि जो लोग निजी क्लिनिकों या केंद्रों पर टीका लगवाएंगे उन्हें शुल्क देना होगा।

जावड़ेकर ने बताया कि यह शुल्क कितना होगा, इसके बारे में विचार विमर्श करने के बाद स्वास्थ्य विभाग दो-तीन दिनों में घोषणा करेगा।