केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर

नई दिल्ली/भाषा। केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने मंगलवार को कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा की गई सरकार की आलोचना पर पलटवार करते हुए कहा कि कोरोना काल में सरकार की उपलब्धियों को लेकर उनका तंज देश की जनता के साथ कोरोना योद्धाओं का अपमान भी है।

उन्होंने कहा कि कोरोना के खिलाफ लड़ाई में भारत की उपलब्धि ये है कि आज अमेरिका, यूरोप और ब्राजील के मुकाबले देश में कोरोना के औसत मामले, सक्रिय मामले और मृत्यु दर बेहद कम है।

इससे पहले, कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों में लगातार हो रही बढ़ोतरी को लेकर मंगलवार को सरकार पर निशाना साधा और कटाक्ष करते हुए कहा कि ‘नमस्ते ट्रंप’ कार्यक्रम, राजस्थान में सरकार गिराने की कोशिश तथा कई अन्य कदमों से आज देश कोरोना के खिलाफ लड़ाई में ‘आत्मनिर्भर’ हो गया है।

इसके जवाब में जावड़ेकर ने ट्वीट किया, ‘राहुल बाबा, कोरोना के खिलाफ लड़ाई में भारत की उपलब्धि पर ध्यान दीजिए। अमेरिका, यूरोप और ब्राजील के मुकाबले भारत की स्थिति कोरोना के औसत, सक्रिय और मृत्यु दर के मामलों में बेहतर है।’

उन्होंने कहा, ‘मोमबत्तियां जलाए जाने का मजाक उड़ाकर राहुल गांधीजी आपने देश की जनता और बहादुर कोरोना योद्धाओं का अपमान किया है।’

सूचना एवं प्रसारण मंत्री जावड़ेकर ने राहुल गांधी को उन्हीं के अंदाज में जवाब देते हुए कहा कि पिछले छह महीने में उनकी उपलब्धियों में मई महीने में कांग्रेस की ऐतिहासिक हार की छठी वर्षगांठ भी शामिल है।

उन्होंने सिलसिलेवार ट्वीट में कहा, ‘फरवरी में शाहीन बाग और दंगे, मार्च में ज्योतिरादित्य सिंधिया और मध्य प्रदेश हाथ से निकले, अप्रैल में प्रवासी मजदूरों को उकसाया।’

जावड़ेकर ने आगे कहा, ‘मई महीने में कांग्रेस की एतिहासिक हार की छठी वर्षगांठ, जून में चीन का बचाव और जुलाई में राजस्थान में परोक्ष पतन।’

कांग्रेस और भाजपा नेताओं के बीच कोरोना के अलावा चीन के साथ सीमा पर चल रहे गतिरोध के मुद्दे पर भी लगातार आरोप प्रत्यारोप का दौर चल रहा है। राहुल और जावड़ेकर के बीच ताजा ट्विटर युद्ध को इसी की एक कड़ी के रूप में देखा जा रहा है।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, मंगलवार को कोविड-19 के 37,148 नए मामले सामने आने के बाद देश में संक्रमण के मामले बढ़कर 11,55,191 हो गए। वहीं 587 और लोगों की जान जाने से मृतकों की संख्या बढ़कर 28,084 हो गई।