logo
सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास और सबका प्रयास भाजपा की कार्य संस्कृति का अभिन्न हिस्सा: नड्डा
नड्डा ने कहा- मेरा बूथ-कोरोना मुक्त अभियान को सफल बनाने में भी बूथ कार्यकर्ताओं ने परिश्रम की पराकाष्ठा की है
 
नड्डा ने कहा कि एक कार्यकर्ता के लिए पांच चीजें प्रमुख होती हैं- योग्यता, उपयोगिता, स्वीकार्यता, प्रभावशीलता और परिपक्वता। जिस भी कार्यकर्ता में ये पांचों गुण हैं, वो पार्टी के लिए संपत्ति है।

नई दिल्ली/दक्षिण भारत। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने बुधवार को वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से उत्तराखंड में पार्टी के सभी शक्ति केंद्र संयोजकों एवं प्रभारियों को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि पंचबद्री, पंचकेदार, पंचप्रयाग की पावन धरा देवभूमि उत्तराखंड को मैं कोटि-कोटि नमन करता हूं। मैं जब भी यहां आता हूं तो मुझे अनंत ऊर्जा की अनुभूति होती है। यह आध्यात्मिक संस्कार की धरती है। कहा जाता है कि सनातन धर्म को अपनी आध्यात्मिक शक्ति यहीं से मिलती है।

नड्डा ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में उत्तराखंड में भाजपा की त्रिवेंद्र सिंह रावत, तीरथ सिंह रावत और अब पुष्कर सिंह धामी की सरकार ने राज्य के विकास में कोई भी कसर नहीं छोड़ी है। उत्तराखंड से निकले सपूत हर क्षेत्र में देश के पुनर्निर्माण में अपना योगदान देते मिल जाते हैं। हम सौभाग्यशाली हैं कि हमें इस महान देवभूमि की सेवा का अवसर मिला है। 

नड्डा ने कहा कि मेरा बूथ-कोरोना मुक्त अभियान को सफल बनाने में भी बूथ कार्यकर्ताओं ने परिश्रम की पराकाष्ठा की है। भाजपा कार्यकर्ताओं ने न केवल भाजपा को चुनाव जिताया है बल्कि उन्होंने देश के विकास में योगदान देने वाले हर आंदोलन में बढ़ चढ़ कर भाग लिया है। कोरोना काल में बूथ कार्यकर्ताओं ने मानवता की सेवा का उत्कृष्ट उदाहरण प्रस्तुत किया है।

नड्डा ने कहा कि संगठन की दृष्टि से उत्तराखंड को देखें तो राज्य में कुल 14 जिले, 252 मंडल, 2,364 शक्ति केंद्र और 11,234 बूथ हैं। सभी जिलों एवं मंडलों में भाजपा की संपूर्ण कार्यकारिणी का गठन हो चुका है। मैं सभी बूथ कार्यकर्ताओं का आह्वान करते हुए कहता हूं कि आप सब बूथ पर पार्टी की आत्मा बनें और श्रद्धेय कुशाभाऊ ठाकरे के बताए रास्ते पर आगे बढ़ने का प्रण लें।

नड्डा ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी विचारधारा और संगठन के आधार पर राजनीति करती है। लोकतंत्र में जनता की सेवा के लिए चुनाव जीतना भी एक माध्यम होता है और हमारे लिए चुनाव जीतने के शस्त्र भी हमारे बूथ कार्यकर्ता ही हैं।

नड्डा ने कहा कि वित्त वर्ष 2021-22 में टीकाकरण के लिए 35,000 करोड़ रुपए की राशि आवंटित की गई। हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर को मजबूती देने के साथ ही मोदी सरकार ने हेल्थ बजट को भी करीब ढाई गुना बढ़ाया, ताकि देश में बेहतरीन स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध हो। पिछली बार के 94, 452 करोड़ रुपए की तुलना में इस बार हेल्थ बजट को बढ़ाकर 2 लाख 23 हजार करोड़ रुपये किया गया।

नड्डा ने कहा कि दिसंबर तक हम देश के हर नागरिक को टीका लगाने के लक्ष्य को लेकर चले हैं। हम इस लक्ष्य में सफल होकर रहेंगे। अब तक लगभग 90 करोड़ से अधिक टीके लगाए जा चुका है। उत्तराखंड में अब तक लगभग 1 करोड़ 5 लाख से वैक्सीन डोज लगाए जा चुके हैं। नड्डा ने कहा कि सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास और सबका प्रयास, भारतीय जनता पार्टी की कार्य संस्कृति का एक अभिन्न हिस्सा बना है।

नड्डा ने कहा कि हमने वैक्सीनेशन में बड़े-बड़े आयाम स्थापित किए हैं। प्रधानमंत्री मोदी के जन्मदिन के अवसर पर 17 सितंबर को देश में 2.5 करोड़ से अधिक वैक्सीन डोज लगाए गए, जो कि एक विश्व रिकॉर्ड है। नमामि गंगे परियोजना के तहत प्रधानमंत्री ने 521 करोड़ रुपए की परियोजनाओं का शुभारंभ किया है।

नड्डा ने कहा कि ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेलवे लाइन परियोजना के लिए शत-प्रतिशत भूमि अधिग्रहण का काम रिकॉर्ड समय में पूरा हुआ है। यह परियोजना भी 2024 तक पूरी हो जाएगी। इससे पर्यटन और रोजगार के क्षेत्र में काफी लाभ होगा। 

नड्डा ने कहा कि उजाला योजना के तहत देश में 36.73 करोड़ एलईडी बल्ब वितरित किए गए हैं, वहीं उत्तराखंड में 56 लाख एलईडी बल्ब का वितरण हुआ है। सौभाग्य योजना के तहत देश भर में बिजली से वंचित 2.62 करोड़ घरों को बिजली पहुंचाई जा चुकी है, वहीं उत्तराखंड में 2.48 लाख घरों में बिजली पहुंचाई गई है।

नड्डा ने कहा कि स्वच्छ भारत अभियान के तहत देश भर में लगभग 11 करोड़ से अधिक शौचालय का निर्माण कराया गया है, वही उत्तराखंड में 5.22 लाख शौचालय का निर्माण किया गया है। यह महिला शक्ति का जीता जागता उदाहरण है।

नड्डा ने कहा कि उत्तराखंड में अंत्योदय की योजना पर बात करें तो देश में जहां पिछले सात वर्षों में 43 करोड़ जन-धन खाते खोले गए हैं, वहीं उत्तराखंड में भी 27 लाख जन-धन खाते खोले गए हैं। उत्तराखंड में 2 लाख 12 हजार गरीब लोगों को इस योजना का लाभ मिला है, जिस पर करीब 203 करोड़ रुपए खर्च किए जा चुके हैं।

नड्डा ने कहा कि आयुष्मान भारत से अब तक करीब 2 करोड़ 19 लाख लोग लाभ उठा चुके हैं। उत्तराखंड की भाजपा सरकार ने आयुष्मान भारत के साथ-साथ राज्य में अटल आयुष्मान योजना भी शुरू की। इससे अब उत्तराखंड के हर परिवार को 5 लाख रुपये सालाना का फ्री हेल्थ कवरेज मिल रहा है। 

नड्डा ने कहा कि प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि का उत्तराखंड के किसानों को पूरा लाभ मिला है। किसान आंदोलन की बात होती है, मैं चुनौती देता हूं कि आप तुलना कीजिए कांग्रेस के सरकारों की और हमारी सरकारों की और बताइए कि किसानों के लिए समर्पित भाव से किसने काम किया है।

नड्डा ने कहा कि मोदी सरकार में तीन बार रबी और खरीफ फसलों की एमएसपी बढ़ाई गई है। सॉइल हेल्थ कार्ड, नीम कोटेड यूरिया, फसल बीमा योजना, ई-नाम, किसान चैनल, डीएपी प्रति बोरी 1,200 रुपए की सब्सिडी ये सभी प्रधानमंत्री जी के नेतृत्व में और उत्तराखंड की सरकार ने किया है।

नड्डा ने कहा कि उत्तराखंड की भाजपा सरकार ने भ्रष्टाचार के खिलाफ जीरो टॉलरेंस की नीति अपनाई है। सरकारी कार्यालयों की कार्य संस्कृति में सुधार आया है। अब उत्पादकता पहले से अधिक हुई है। महज एक रुपये में ‘हर घर नल में जल' पहुंचाया जा रहा है।

नड्डा ने कहा कि एक कार्यकर्ता के लिए पांच चीजें प्रमुख होती हैं- योग्यता, उपयोगिता, स्वीकार्यता, प्रभावशीलता और परिपक्वता। जिस भी कार्यकर्ता में ये पांचों गुण हैं, वो पार्टी के लिए संपत्ति है। उन्हें आगे बढ़ने से कोई रोक नहीं सकता है। अन्य राजनीतिक दल मानते हैं कि धन बल और बाहुबल से राजनीति संभव है। पर भाजपा की शक्ति कार्यकर्ता और संगठन में है। आज विरोधी भी मानते हैं कि देश में कार्यकर्ता आधारित पार्टी कोई है तो वो भाजपा है।

नड्डा ने कहा कि कोरोना काल में भाजपा कार्यकर्ताओं ने सेवा के बड़े काम किए हैं। पूरी दुनिया हैरान थी कि क्या किसी राजनीतिक दल के कार्यकर्ता भी अपनी जान जोखिम में डाल कर सेवा का इतना बड़ा अभियान चला सकते हैं। हमारे कार्यकर्ताओं ने देश, समाज और दुनिया के सामने एक अभूतपूर्व उदाहरण प्रस्तुत किया है।