पश्चिम बंगाल के पूर्व मुख्यमंत्री बुद्धदेव भट्टाचार्य
पश्चिम बंगाल के पूर्व मुख्यमंत्री बुद्धदेव भट्टाचार्य

कोलकाता/भाषा। पश्चिम बंगाल के पूर्व मुख्यमंत्री बुद्धदेव भट्टाचार्य की हालत में बृहस्पतिवार की सुबह थोड़ा सुधार हुआ लेकिन अब भी उनकी स्थिति ‘नाजुक’ है। अस्पताल के सूत्रों ने इस बारे में बताया। उन्होंने बताया कि डॉक्टरों की पांच सदस्यीय टीम उनकी स्थिति के बारे में आकलन करेगी और आगे के उपचार के बारे में फैसला किया जाएगा।

अस्पताल में बुद्धदेव का उपचार कर रहे एक वरिष्ठ डॉक्टर ने बताया, ‘उनकी स्थिति में कुछ सुधार हुआ है। उनका पीसीओटू स्तर भी बरकरार है और आज सुबह यह स्तर 42 रहा। सीओपीडी के मरीजों के लिए यह सामान्य है। उन्हें वेंटिलेटर पर रखा गया है और उनकी स्थिति नाजुक है।’

भट्टाचार्य (76) को सांस संबंधी तकलीफ बढ़ने के बाद बुधवार दोपहर निजी अस्पताल की सघन चिकित्सा इकाई (आईसीयू) में वेंटिलेटर सपोर्ट पर रखा गया। माकपा के वरिष्ठ नेता भट्टाचार्य में कोविड-19 संक्रमण की पुष्टि नहीं हुई थी लेकिन उनके मस्तिष्क के सीटी स्कैन में कुछ विकार का पता चला था। डॉक्टरों की पांच सदस्यीय टीम लगातार उनके स्वास्थ्य पर नजर रख रही है।

बुद्धदेव 2015 में माकपा के पोलित ब्यूरो और केंद्रीय कमेटी से बाहर हो गए थे। पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने अस्पताल पहुंचकर उनके स्वास्थ्य के बारे में जानकारी ली और उनके जल्द स्वस्थ होने की कामना की।