किशनगंज। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आज राज्य के सर्वाधिक बा़ढग्रस्त जिलों में से एक किशनगंज जिले में प्रभावितों के लिए लगाए राहत शिविरों का जायजा लिया। सीमांचल के किशनगंज जिले के चकला प्रखंड स्थित मिलिया कॉलेज में बा़ढ की समीक्षा करने पहुंचे मुख्यमंत्री ने चकला पंचायत के १५ वार्डों के लिए लगाए गए राहत शिविर का जायजा लिया। उन्होंने बा़ढ पीि़डतों के लिए तैयार ़फूड पैकेट को प्रभावितों के बीच वितरित किया। उन्होंने पीि़डतों के लिए लाए गए दवाइयों सहित पानी का स्टोल का भी जायजा लिया। इस दौरान मुख्यमंत्री ने स्थानीय पेयजल के इस्तेमाल पर जिलाधिकारी पंकज दीक्षित को फटकार लगाई। साथ ही संबंधित विभाग के अधिकारियों को पूरे जिले में बोतल बंद पानी का इस्तमाल और वितरण करने का निर्देश दिया।शिविर के जायजा के बाद मुख्यमंत्री ने अधिकारियों और जनप्रतिनिधियों के साथ समीक्षात्मक बैठक की। बैठक में बा़ढ से क्षतिग्रस्त स़डकों, पुल-पुलिया और राहत सामग्री वितरण पर दिशा निर्देश दिया। उन्होंने अधिकारियों को किसानों के फसल एवं पशु क्षति का यथा शीघ्र सर्वे कर राशि देने का निर्देश दिया।